मानसून में भी न घटने दें इम्यूनिटी: कोरोनाकाल में रंग-बिरंगी फल-सब्जियां और इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक्स बढ़ाएंगी रोगों से लड़ने की क्षमता; जानिए इस मौसम में क्या खाएं और क्या न खाएं

0
48
Article Top Ad


  • Hindi News
  • Happylife
  • Monsoon Diet And Coronavirus; Foods That Help Strengthen Your Immunity During Pandemic

एक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

बारिश का मौसम गर्मी से राहत तो देता है, लेकिन कई बीमारियों का खतरा भी बढ़ाता है। इसकी दो बड़ी वजह हैं। पहली, मानसून में इंसान की रोगों से लड़ने की क्षमता यानी इम्यूनिटी घट जाती है। और दूसरी, इस मौसम में नमीं अधिक होने के कारण वायरस, बैक्टीरिया और फंगल का इंफेक्शन का खतरा अधिक रहता है।

कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, इसलिए इम्यूनिटी को कम मत होने दें। क्लीनिकल न्यूट्रीशनिस्ट सुरभि पारीक कहती हैं, खानपान में बदलाव करके रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ा सकते हैं और मौसमी बीमारियों से बच सकते हैं।

जानिए मानसून के मौसम में हमारा खानपान कैसा होना चाहिए….

डाइट में लाल, पीली और हरी फल-सब्जियां शामिल करें
क्लीनिकल न्यूट्रीशनिस्ट सुरभि पारीक कहती हैं, खासकर इस मौसम में लाल, पीली और हरी सब्जियां व फल जरूर शामिल करें। इनमें कई तरह के पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाते हैं। जैसे- गाजर, शिमला मिर्च, बींस, करेला, नाशपाती, आलूबुखारा, कीवी, मौसम्बी, आम, पपीता, स्ट्रॉबेरी और अनार।

सिर्फ पानी ही काफी नहीं, इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक्स लें
इस मौसम में पानी की कमी न होने दें। रोजाना 10-12 गिलास पानी पिएं। शरीर में पानी की मात्रा पर्याप्त होने पर विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं और इम्यूनिटी बढ़ती है। अगर चाय ले रहे हैं तो इसमें तुलसी, लौंग और अदरक जरूर डालें।

घर में ही इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक भी तैयार कर सकते हैं। इसके लिए 1 गिलास पानी लें और इसमें तुलसी, लौंग, अदरक डालकर उबालें। नींबू के रस की कुछ बूंदें और दालचीनी का पाउडर मिलाकर पी सकते हैं। ध्यान रखें इसे दिन में दो बार आधा-आधा कप से ज्यादा न लें। इससे सीजनल प्रॉब्लम्स जैसे सर्दी-खांसी और जुकाम होने का खतरा घट जाता है।

बाहर का खाना न खाएं क्योंकि यहां से संक्रमण का खतरा ज्यादा
एक्सपर्ट के मुताबिक, इस मौसम में स्ट्रीट फूड खाने से बचें। यहां से संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है। अगर कुछ चटपटा या तला हुआ खाने का मन है तो इसे घर पर ही बनाएं और कम मात्रा में खा सकते हैं। ध्यान देने वाली बात है कि कई घंटों तक भूखे रहने से बचें। इससे कमजोरी आ सकती है। ऐसी स्थिति में भी पानी की कमी न होने दें।

दूध, पनीर और स्प्राउट्स से पूरी करें प्रोटीन की कमी
प्रोटीन शरीर में हुए डैमेज को रिपेयर करता है, इसलिए इसकी कमी न होने दें। खासकर, ऐसे मरीज जो कोरोना से रिकवर हुए हैं उन्हें प्रोटीन की सबसे ज्यादा जरूरत है। इसके लिए डाइट में दूध, पनीर, स्प्राउट्स और ड्राय फ्रूट्स की मात्रा बढ़ाएं। इसके अलावा अलग-अलग तरह की दालें, स्प्राउट का चीला भी खानपान में शामिल कर सकते हैं।

रोजाना 30 मिनट की फिजिकल एक्टिविटी जरूर करें
इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खानपान के साथ फिजिकल एक्टिविटी भी जरूरी है। इसके लिए रोजाना कम से कम 30 मिनट वर्कआउट के लिए निकालें। अगर बाहर बारिश नहीं हो रही है तो वॉक और साइक्लिंग कर सकते हैं। घर पर ही हैं तो रस्सीकूद, स्क्वाट, प्लैंक जैसे वर्कआउट कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं…



Source