हमारे पास है गुड़ की रोटी की हेल्दी रेसिपी जो आपकी इम्युनिटी रखेगी मजबूत

0
36
Article Top Ad


भारतीय घरों में खाने के बाद कुछ मीठा न खाया जाए तो, भोजन संपूर्ण नहीं माना जाता है। खाने के बाद कुछ मीठा तो बनता है! मगर यदि आप डाइट कॉन्शियस हैं या फिटनेस फ्रीक तो आपको हमेशा अपनी शुगर कैलोरीज की चिंता सताती होगी? है न? मगर शुगर क्रेविंग का क्या करें, जो आपको बार – बार मीठा खाने की और आकर्षित करती है!

चिंता न करें, क्योंकि हम आपके लिए लाएं हैं गुड़ की रोटी! जो हेल्दी है और टेस्टी भी। पुराने ज़माने में खाने के बाद एक छोटी गुड़ की रोटी भी दी जाती थी, जिसे लोग बड़े चाव से खाते थे। इतना ही नहीं अगर आप बाहर जाकर परंपरिक थाली ऑर्डर करेंगे, तो उसमें भी आपको गुड़ की रोटी देखने को ज़रूर मिलेगी।

यह बहुत पौष्टिक और टेस्टी होती है और इसे बनाना भी आसान है। तो, चलिए जानते हैं गुड़ की रोटी की रेसिपी –

गुड़ की रोटी बनाने के लिए आपको चाहिए

½ कप गुड़ का पाउडर या कद्दूकस किया हुआ गुड़
आधा कप पानी
1.25 कप साबुत गेहूं का आटा
1 चम्मच सौंफ
एक बड़ा चम्मच घी
2 बड़े चम्मच सूखा नारियल – वैकल्पिक
आवश्यकता अनुसार घी, तलने के लिये

तो चलिए सबसे पहले इसका आटा गूंथते हैं

एक बाउल में ½ कप गुड़ का पाउडर और आधा कप पानी लें। आप गुड़ के पाउडर की जगह कद्दूकस किए हुए गुड़ का भी इस्तेमाल कर सकती हैं।
अच्छी तरह मिलाएं और 30 से 45 मिनट के लिए या सारा गुड़ घुल जाने तक एक तरफ रख दें।
दूसरे पैन में 1 से 1.25 कप गेहूं का आटा लें। साथ ही 1 चम्मच सौंफ (सौंफ) और 1 बड़ा चम्मच घी डालें।
सबसे पहले गुड़ के घोल को चलाएं और फिर एक छलनी की मदद से इसे सीधे आटे वाले प्याले में छान लें।
इसे पहले बहुत अच्छी तरह मिला लें।
फिर गूंथना शुरू करें और एक चिकना आटा गूंथ लें।
इसमें गुड़ होने से आटा थोड़ा चिपचिपा हो जाएगा। अगर आटा गीला लगता है, तो आप थोड़ा और गेहूं का आटा डाल सकती हैं।

अब बनाते हैं गुड की रोटी

अब एक जिप लॉक बैग लें। आप एक छोटे आकार के केले का पत्ता भी ले सकती हैं।
जिप लॉक बैग पर थोड़ा सा घी फैलाएं।
आटे से एक मध्यम आकार की लोई लें और इसे जिप लॉक बैग पर रखें।
बेलन की सहायता से पूरी के आकार की छोटी रोटी बेल लें।
बस इतना कि रोटी भरवां पराठे से थोड़ी मोटी होनी चाहिए।

गुड़ की रोटी पकाने के लिए

अब रोटी को जिप लॉक बैग से निकाल कर गरम तवे पर रख दें।
आंच धीमी या मध्यम रखें और गुड़ की रोटी को भूनना शुरू कर दें।
जब एक साइड हल्का ब्राउन हो जाए तो उसे पलट दें।
ऊपर से थोड़ा सा घी लगाएं। ये गुड़ की रोटियां घी सोख लेती हैं। तो घी का इस्तेमाल कम ही करें।
दूसरी तरफ ब्राउन होने पर रोटी को पलट दें।
इस तरफ भी थोड़ा सा घी लगा कर
रोटी को अच्छे से दबाते हुए पकाएं।
गोल्डन ब्राउन होने पर रोटी को तवे से उतार लें! आपकी गुड़ की रोटी तैयार है!

gur khane ke fayde

गुड़ की रोटी के पोषण मूल्य कुछ इस प्रकार हैं

विटामिन बी1 – 67%| विटामिन बी2 (राइबोफ्लेविन) – 59%| विटामिन बी3 (नियासिन) – 5%| विटामिन बी6 – 50%| विटामिन सी – 1%| विटामिन ई – 7%| विटामिन के – 1%| कैल्शियम – 2%| विटामिन बी9 (फोलेट)- 2%| आयरन – 6%| मैग्नीशियम – 8%| फास्फोरस – 8%| जिंक – 7%| फैट से कैलोरी 81| फैट 9g| कोलेस्ट्रॉल 18mg| सोडियम 2mg| पोटेशियम 82mg| कार्बोहाइड्रेट 32g| फाइबर 3mg| चीनी 17g| प्रोटीन 3gm

अब जानिए गुड़ की रोटी आपके लिए कैसे फायदेमंद है

गुड़ आपकी इम्युनिटी बढ़ाता है और सभी मौसमी बीमारी और संक्रमण दूर रखता है।

घी और गुड़ मानसून में होने वाली पाचन तंत्र की परेशानियों से भी राहत दिलाते हैं और कब्ज की समस्या भी नहीं आती है।

गुड़ की रोटी खाने से आपका वज़न भी नहीं बढ़ेगा और ये स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है क्योंकि गुड़ एक नेचुरल शुगर है।

यह भी पढ़ें : वेट लॉस के लिए परफेक्ट ब्रेकफास्ट है सत्तू और ओट्स उपमा, हम बता रहें हैं इसकी रेसिपी



Source