पंजाब में कैप्टन के खिलाफ बगावत: बागी मंत्री व विधायक हरीश रावत से मिलने चंडीगढ़ से देहरादून रवाना; बाजवा बोले- CM न बदला तो हाईकमान खुद खोदेगा पंजाब में कांग्रेस की कब्र

0
52
Article Top Ad


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Departs From Chandigarh To Dehradun To Meet Rebel Minister And MLA Harish Rawat; Bajwa Said If The CM Does Not Change, The High Command Itself Will Dig The Grave Of Congress In Punjab

जालंधर4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कैप्टन अमरिंदर सिंह।

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ बगावत का झंडा लिए बागी मंत्री व विधायक देहरादून रवाना हो गए हैं। वहां उनकी मुलाकात कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व पंजाब इंचार्ज हरीश रावत से होगी। इसके बाद दिल्ली में हाईकमान से मुलाकात का वक्त मांगा गया है। देहरादून रवानगी के वक्त मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि पंजाब में CM बदलने के एक महीने के भीतर वह कांग्रेस की छवि सुधार देंगे। वहीं, तृप्त राजिंदर बाजवा ने कहा कि अगर हाईकमान ने कैप्टन को न बदला तो वह पंजाब में खुद ही कांग्रेस की कब्र खोदेंगे।

देहरादून जाने वालों में वरिष्ठ मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा, सुखजिंदर रंधावा, चरणजीत सिंह चन्नी, सुखबिंदर सिंह सुख सरकारिया के साथ प्रदेश महासचिव प्रगट सिंह, विधायक कुलबीर जीरा, वरिंदरजीत पहाड़ा, सुरजीत धीमान भी शामिल हैं। बुधवार सुबह सभी गाड़ियों का काफिला लेकर चंडीगढ़ से देहरादून के लिए रवाना हुए हैं। वहां करीब साढ़े 10 बजे उनकी हरीश रावत से मुलाकात होने की संभावना है।

बागी धड़े की अगुवाई कर रहे मंत्री व विधायक।

बागी धड़े की अगुवाई कर रहे मंत्री व विधायक।

26 अप्रैल को ही हो गया था विवाद

मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि मैंने व तत्कालीन पंजाब प्रधान सुनील जाखड़ ने 26 अप्रैल की केबिनेट मीटिंग में ही बेअदबी, नशा व अन्य मुद्दों पर कार्रवाई की मांग की थी। विवाद तो उसी वक्त शुरू हो गया था। कैप्टन को हटाने के बाद पंजाब में पार्टी को नुकसान के सवाल पर रंधावा ने कहा कि एक महीने में कांग्रेस की छवि सुधर जाएगी।

कुछ विधायकों के पल्ला झाड़ने पर रंधावा बोले- कुछ बैठक में नहीं थे

कैप्टन का तख्तापलट करने के लिए मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा के घर बैठक के बाद देर रात 7 विधायक इससे मुकर गए। इनमें कुलदीप वैद, दलवीर गोल्डी, संतोख सिंह भलाईपुर, अंगद सिंह, राजा वड़िंग, गुरकीरत कोटली व पूर्व विधायक अजीत सिंह मोफर शामिल हैं। मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि भलाईपुर बैठक में ही नहीं थे। बाकी से मीडिया खुद पूछ लें।

मंत्री बाजवा के तीखे तेवर, कैप्टन अकालियों के साथ मिले हुए हैं

मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह अकालियों के साथ मिले हुए हैं। हम कितनी देर देखते रहेंगे। हम हाईकमान से कैप्टन को बदलने की मांग करेंगे। अगर हाईकमान ने न बदला तो पंजाब में कांग्रेस की कब्र खुद खोदेगी। कैप्टन कांग्रेस को मरवाने की साजिश कर रहे हैं। यह सोच हो गई है कि कांग्रेस जाए और अकाली आ जाएं। यह बिल्कुल गलत है। बाजवा ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस के आने पर देश में कांग्रेस वापस लौटेगी लेकिन कैप्टन कांग्रेस को खत्म करने में जुटे हैं।

खबरें और भी हैं…



Source