बेरोजगारी और ब्रेकअप के बाद सुसाइड करने वाला था युवक, पुलिस ने दो घंटे में ऐसे बचाई जान

0
38
Article Top Ad


Delhi News: दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने 10 सितंबर वर्ल्ड सुसाइड प्रिवेंशन डे पर 27 साल के एक युवक को सुसाइड करने से रोका और उसकी जान बचा ली. असल में दिल्ली पुलिस की साइबर सेल को ये जानकारी आयरलैंड स्थित फेसबुक के कार्यालय से दी गई, जिसके बाद दिल्ली पुलिस की साइबर सेल हरकत में आई और फिर तीन थानों की मदद से पुलिस ने मात्र 2 घंटे के अंदर उस युवक को खोज निकाला. उसकी काउंसलिंग करने के बाद उसे काफी हद तक सामान्य कर दिया गया है.

साइबर सेल के डीसीपी अनेश रॉय का कहना है कि युवक पिछले कुछ समय से बेरोजगार चल रहा है और कुछ समय पहले ही उसका अपनी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप हुआ था. इसलिए वह डिप्रेशन में था. दिल्ली के सिग्नेचर ब्रिज पर फेसबुक ने 27 साल के युवक को संदिग्ध हालात में ट्रेस किया था. फेसबुक के आयरलैंड स्थित कार्यालय में कार्यरत कर्मियों को उस युवक की हरकत ऐसी लगी, जैसे वह सुसाइड कर सकता है. जिसके बाद दिल्ली पुलिस के साइबर सेल को इसकी जानकारी दी गई. युवक का फेसबुक आईडी, मोबाइल नंबर आदि पुलिस को उपलब्ध करवाया गया.

डीसीपी साइबर सेल अनेश रॉय का कहना है कि इस पूरे ऑपरेशन में लगभग 2 घंटे का समय लगा. इन 2 घंटे के अंतराल में आयरलैंड स्थित फेसबुक के दफ्तर से दिल्ली पुलिस के साइबर सेल को इस युवक की जानकारी दी गई. जिस समय युवक को ट्रेस किया गया था, वह सिग्नेचर ब्रिज पर था. जिसके बाद तीन थानों की पुलिस दयालपुर, तिमारपुर और सीलमपुर थाना की मदद ली गई. जिससे जल्द से जल्द युवक को ट्रेस किया जा सके. पुलिस ने जब अपना काम शुरू किया तो पुलिस को उस युवक के भाई का नंबर भी मिल गया, जिसके बाद उसकी भी मदद ली गई.

अब हालत है सामान्य

युवक को पुलिस ने सिग्नेचर ब्रिज से लगभग आधा किलोमीटर दूर खजूरी चौक के पास से ट्रेस कर लिया. उसके बाद प्रोफेशनल्स की मदद से उसकी काउंसलिंग कराई गई. अब उसकी हालत काफी हद तक सामान्य है. युवक ने बताया कि वह पहले से ही बेरोजगारी की वजह से परेशान था. कुछ समय पहले उसकी नौकरी छूट गई थी. हाल ही में उसका अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हो गया था, जिसके बाद से वह बहुत ज्यादा तनाव में रहने लगा था. कहीं न कहीं डिप्रेशन का शिकार बन चुका था.

युवक ने बताया कि शुक्रवार शाम को वह सिग्नेचर ब्रिज के पास आकर फेसबुक लाइव करने लगा था. वह खुदकुशी करने का मन बन चुका था. पुलिस को जांच में ये भी जानकारी मिली है कि इस युवक के परिवार में कोई करीबी आत्महत्या कर चुका है. इस वजह से ये युवक और भी ज्यादा संवेदनशील है. पुलिस ने लगभग 2 घंटे के अंदर न केवल उसे ट्रेस किया बल्कि उसकी काउंसलिंग करवाकर उसको सामान्य भी किया है और एक इंसान की जिंदगी को भी बचाने में सफलता भी हासिल की है.

यह भी पढ़ें:
गुजरात: एक ही परिवार के तीन सदस्यों के पेड़ों से लटके मिले शव, आत्महत्या का संदेह
Crime News: जल निगम के कर्मचारी का खून से लथपथ शव दफ्तर में मिला, हत्या-आत्महत्या की गुत्थी में उलझी पुलिस



Source