कर्फ्यू में चकमा देकर ट्रेनिंग पर जाते थे कश्‍मीरी फुटबॉलर असरार, अब हासिल किया बड़ा मुकाम

0
14
Article Top Ad


नई दिल्‍ली. कश्‍मीर फुटबॉलर मोहम्‍मद असरार रहबर  (Mohammad Asrar Rehbar) आज भारतीय फुटबॉल जगत में उभरता हुआ नाम है. 23 साल के असरार बेंगलुरु यूनाइटेड के अहम सदस्‍य हैं. उनकी नजर आईलीग क्‍वालिफायर पर है. वह स्‍पेनिश लीग का भी हिस्‍सा बन चुके हैं. क्रिकेट को पहला प्‍यार मानने वाले असरार के लिए फुटबॉल में इस मुकाम को हासिल करना कतई आसान नहीं था. उनके सामने खेल के अलावा भी काफी चुनौतियां थी. दरअसल असरार जिस जगह से हैं, वहां के हालात अक्‍सर तनावपूर्व रहते हैं. ऐसे में बाकी खिलाड़ियों की तरह वहां पर नियमित रूप से अभ्‍यास करना ही अपने आप में बड़ी चुनौती थी.

दैनिक भास्‍कर की खबर के अनुसार असरार कर्फ्यू से बचते हुए ट्रेनिंग पर जाते. दोस्‍त उनकी मदद करते. हालांकि, कुछ साल पहले वे बेंगलुरु शिफ्ट हो गए, मगर तभी 2019 में कश्‍मीर में हालात खराब हो गए थे. इस वजह से न तो वो परिवार से संपर्क कर सके और न दोस्‍तों से. कुछ महीनों के बाद हालात सुधरने के बाद उनके पिता एयरपोर्ट पर जाते और अपने बेटे को हालात की जानकारी देते.

टीचर ने कहा था- कभी खिलाड़ी नहीं बनोगी, अब पूरी दुनिया को पहले ही ग्रैंडस्‍लैम में दिखा दिया दम

बैकहम को देखकर शुरू किया खेलना
असरार को क्रिकेट का शौक था, मगर बचपन में टीवी पर डेविड बैकहम को पहली बार देखा था और इसके बाद वो लगातार मैच देखने लगे. इसके बाद वो शाम के समय दोस्‍तों के साथ फुटबॉल खेलने लगे. यूथ लेवल पर स्‍कूल के लिए खेलना शुरू किया. असरार जब 9वीं क्‍लास में थे, तब उन्‍हें एआईएफएफ एलीट एकेडमी में पहली बार शामिल किया गया. उन्‍होंने इसके बाद कश्‍मीर के कई क्‍लब का प्रतिनिधित्‍व किया.

EPL: क्रिस्टियानो राेनाल्डो ने इंग्लैंड लौटते ही किया बड़ा कारनामा, पहले मैच में किए 2 गोल; टीम टॉप पर

लाइमलाइट में आए असरार
कश्‍मीर का यह युवा फुटबॉलर उस समय सुर्खियों में आया, जब उन्‍हें टेरसेरा डिवीजन में स्‍पेनिश क्‍लब सोसिदाद डेपोर्टिवा लेनेंस की तरफ से खेलने के लिए चुना गया. उन्‍होंने अपने डेब्‍यू मैच में ही 2 गोल दाग दिए थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source