यौन शोषण पर गवाही देते हुए सीनेट के सामने रो पड़ीं सिमोन बाइल्स, अमेरिकी ओलंपिक समिति और एफबीआई की निंदा की

0
23
Article Top Ad


ओलंपिक जिम्नास्ट सिमोन बाइल्स ने बुधवार को सांसदों को बताया कि कैसे एफबीआई,अमेरिकी जिम्नास्टिक और ओलंपिक अधिकारी यौन शोषण को रोकने में विफल रहे। उन्होंने बताया कि वो और सैकड़ों अन्य एथलीट पूर्व डॉक्टर लैरी नस्सार से पीड़ित थे। उन्होंने कहा कि मैं साफ तौर से लैरी नस्सार और एक पूरे सिस्टम को दोषी ठहराती हूं, जिसने उनके अपराध को सक्षम बनाया।

अमेरिकी सीनेट ज्यूडिशरी कमेटी के सामने उन्होंने अपने साथी जिमनास्ट मैकायला मारोनी, एली रईसमैन और मैगी निकोल्स के साथ ये कहा। सिमोन बाइल्स सीनेट के सामने गवाही देने के दौरान रो पड़ीं। बाइल्स ने कहा कि यूएसए जिमनास्टिक और अमेरिकी ओलंपिक और पैरालंपिक समिति कार्रवाई करने में विफल रही, जबकि एफबीआई ने आंखें मूंद लीं। उन्होंने कहा कि एफबीआई नस्सार की जांच में बुरी तरह से विफल रही और आखिरकार गिरफ्तार होने से पहले एक साल से अधिक समय तक वो अन्य पीड़ितों का शोषण करते रहे।

टोक्यो गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा ने कहा- ओलंपिक रिकॉर्ड तोड़ना मेरे सबसे बड़ा लक्ष्य 

एफबीआई निदेशक क्रिस रे ने कोई बहाना नहीं बनाया और कहा कि ब्यूरो ने उन एजेंटों में से एक को निकाल दिया था जिन्होंने शोषण के बारे में मैरोनी के 2015 के इंटरव्यू के विवरण को गलत बताया था। गौरतलब है कि लैरी को सबसे पहले चाइल्ड पॉर्न रखने के मामले में 2017 में 60 वर्ष की सजा हुई थी। मीटू के तहत उन पर सैकड़ों लड़कियों ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। इस मामले में दोषी पाए जाने के बाद दो अलग-अलग कोर्ट ने  लैरी नस्सार  को 175 और 125 वर्ष की सजा सुनाई थी।

संबंधित खबरें



Source