दुनिया का दूसरा सबसे ईमानदार शहर है मुंबई, सड़क पर पैसों से भरा बटुआ गिरा किया गया अनूठा टेस्ट

0
29
Article Top Ad


मुंबई को सपनों का शहर का जाता है। अब आप इस महानगर को ईमानदारों का शहर भी कह सकते हैं। जी हां, हाल ही में एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि मुंबई शहर दुनिया का दूसरा सबसे ईमानदार शहर है। ‘Reader’s Digest’ मैग्जीन ने हाल ही में एक सर्वे किया है। इस पत्रिका ने 16 शहरों में सैकड़ों लोगों पर एक अनूठा टेस्ट किया। पत्रिका ने इस टेस्ट के तहत हर एक शहर में करीब 12 बटुए बीच सड़क पर गिराया और इस बात की जांच की कि कितने लोग इस बटुए को  ईमानदारी वापस करते हैं। 

ईमानदारी को परखने के लिए सड़क पर बटुआ गिरा कर किये गये इस टेस्ट को लॉस्ट वॉलेट टेस्ट का नाम दिया गया। टेस्ट के दौरान यह पता चला कि फिनलैंड की राजधानी हेलसिंकी में सबसे ज्यादा लोगों ने बटुआ वापस किया। इसके बाद महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई का नंबर आता है। जिन 16 शहरों में यह प्रयोग किया गया था उनमें न्यूयॉर्क, एम्स्टर्डम, बर्लिन, बुखारेस्ट, बुडाबेस्ट, हेलसिंकी, लिस्बन, लुब्लियाना, लंदन, मैड्रिड, मॉस्को, मुंबई, प्राग, रियो डी जेनेरिया, वारसा और ज्यूरिक शामिल हैं। 

इस टेस्ट के दौरान टीम के सदस्यों ने करीब 200 वॉलेट अलग-अलग जगहों पर गिराए और इस बात की रिकॉर्डिंग की गई कि कितने लोग पर्स को बिना देखे या उसमें से बिना पैसे या अन्य सामान निकाले उसे उसके सही मालिक को वापस लौटाते हैं। इस बटुए में स्थानीय करेंसी के अलावा बिजनेस कार्ड रखे गये थे। बटुए में करीब 4000 रुपए थे। इन बटुओं को 16 शहरों के अलग-अलग पार्क, शॉपिंग मॉल या अन्य स्थानों पर गिराया गया था। 

हेलसिंकी में कुल 12 बटुए गिराए गए और इनमें से 11 बटुए उसके सही मालिक के पास पहुंच गए। मुंबई में 9 से ज्यादा गुम हुए बटुए उसके सही मालिक के पास पहुंच गए। इसी तरह हंगरी के शहर बुडापेस्ट में 12 में से 8 बटुए को लोगों ने वापस कर दिया। इसके बाद यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका के न्यूयॉर्क में किये गये लॉस्ट वैलेट टेस्ट के दौरान 12 में से 8 बटुए ईमानदारी से लौटा दिये गये। मॉस्को में 12 में से 7 बटुए लौटाए गए। इसके बाद एम्स्टर्डम का नंबर आता है।   



Source