सुरक्षा एजेंसियों को नवरात्री पर बम धमाकों की आशंका, 6 आतंकियों से आमने-सामने बैठाकर पूछताछ

0
53
Article Top Ad


Terror Module Case: दिल्ली में पकडे गए आतंकवादी ओसामा के अब्बूजान के पास वो जानकारी हो सकती है जिसमें इस माड्यूल का कौन आतंकी कहां बैठा हो, इसकी जानकारी हो… साथ ही नवरात्री के अवसर पर धमाके ना हो जाए, इस मुद्दे को ध्यान में रखकर गिरफ्तार 6 आतंकवादियों से आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की जा रही है, जहां ये आतंकवादी पुलिस को गुमराह करने की फिराक में है. उधर शुक्रवार को पूरे देश के आतंकवाद निरोधक दस्तों के बड़े अधिकारियों की बैठक पुलिस मुख्यालय में होने जा रही है, जहां इस खतरे से निपटने के लिए संयुक्त रणनीति बनाई जा सकती है.

देश के विभिन्न हिस्सों से पकडे गए 6 आंतकियों से दिल्ली पुलिस की पूछताछ लगातार जारी है और इस पूछताछ के दौरान ये जानने की कोशिश की जा रही है कि इनके दूसरे साथी देश के किन हिस्सों में मौजूद है और किन लोगों के पास विस्फोटक पहुंच चुका है. इनमें दाऊद इब्राहिम के भाई अनीस इब्राहिम से बात करने वाले समीर उर्फ जान से पूछताछ के लिए मुंबई एटीएस की टीम भी दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल पहुंच चुकी है और साथ ही पाकिस्तान में ट्रेनिग लेकर आए ओसामा के पिता के मदरसे को लेकर भी जांच शुरू हो चुकी है.

संदिग्ध आतंकवादी ओसामा तो पकड़ा गया लेकिन उसके अब्बाजान अभी भी फरार हैं और उसकी फरारी ने सुरक्षा एजेंसियों की पेशानी पर बल डाल दिए हैं क्योंकि अब तक जो खुफिया रिपोर्ट मिली है उसके मुताबिक ओसामा के अब्बाजान के पास वो लिस्ट हो सकती है, जिसमें देश के किस भाग में कौन सा आतंकवादी छुपा बैठा है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक ओसामा के अब्बाजान आईएसआई के बड़े अधिकारियों के संपर्क में थे.

पूछताछ जारी

पुलिस सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार आतंकवादियों को अब आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की जा रही है क्योंकि ये आतंकी पुलिस को गुमराह करने की कोशिश में है और उनके अभी तक दिए गए बयानों में भारी अंतर पाया गया है. गिरफ्तारी के बाद इन सभी आतंकवादियों से पहले अलग-अलग पूछताछ की गई थी. गिरफ्तार आतंकी ओसामा से उसके पिता और चाचा को लेकर गहन पूछताछ की जा रही है. यह भी पता चला है कि पकड़े गए आतंकवादियों के अलग-अलग मास्टर थे. इनमें से कुछ लोगों की पहचान हुई है. सूत्रों के मुताबिक कुछ और संदिग्ध आतंकी जानकारी के आधार पर जल्दी पकड़े जा सकते हैं.

खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों को सब से बड़ा खतरा यही है कि नवरात्री के अवसर पर कहीं धमाके ना हो जाए और उनकी सारी मेहनत पर पानी ना फिर जाए. पकड़े गए आतंकियों के बड़े खुलासों के बीच दिल्ली पुलिस मुख्यालय में शुक्रवार को एंटी टेरर कॉन्फ्रेंस होने जा रही है. जिसमें देश के 14 से 16 राज्यों के बडे पुलिस अधिकारी बैठक करेंगे. इस बैठक में खुफिया एजेंसियों के बड़े अधिकारी भी शामिल होंगे. पकड़े गए छह आतंकियों के देशव्यापी नेटवर्क के बारे में चर्चा होगी. साथ ही आतंकवाद के नए मॉडल और खतरों पर चर्चा होगी.

यह भी पढ़ें:
Terror Module: एक बार फिर चर्चा में आया अनीस इब्राहिम का नाम, जानिए दाऊद के सबसे खूंखार भाई के बारे में
Terror Module: आतंकियों से पूछताछ में खुलासा, बड़े ब्रिज और रेलवे ट्रैक थे निशाना, बरामद RDX से जा सकती थी सैकड़ों लोगों की जान



Source