अमेरिका ने तालिबान को सौंपी ‘अफगान सहयोगियों’ की लिस्ट

0
29
Article Top Ad



<p style="text-align: justify;">काबुल में अमेरिकी अधिकारियों ने तालिबान को अमेरिकी नागरिकों, ग्रीन कार्ड होल्डर्स और अफगान सहयोगियों के नामों की एक लिस्ट सौंपी है. अधिकारियों ने तालिबान से इन लोगों को शहर के एयरपोर्ट के बाहरी क्षेत्र में प्रवेश करने की मंजूरी देने के लिए कहा है. दरअसल ये एरिया आतंकवादी संगठन के कंट्रोल में है. वहीं तालिबान के हाथ विदेशी सैनिकों की मदद करने वाले अफगानों की लिस्ट आना बड़ा खतरा बन सकता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>अफगान सहयोगियों की लिस्ट सौंपना एक गलत फैसला</strong></p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि तीन अमेरिकी और कांग्रेस के अधिकारियों ने पोलिटिको से बात करते हुए कहा कि इस कदम को अफगानिस्तान से हजारों लोगों की निकासी में तेजी लाने के लिए डिज़ाइन किया गया था, क्योंकि पिछले हफ्ते अफगानिस्तान की राजधानी शहर में तालिबान द्वारा देश पर नियंत्रण करने के बाद अराजकता फैल गई थी. इसका एक कारण ये भी बताया जा रहा है कि काबुल एयरपोर्ट के बाग अमेरिका सुरक्षा के लिए तालिबान पर निर्भर हो गया गया है.</p>
<p style="text-align: justify;">वहीं तालिबान को अधिकारियों द्वारा अफगान सहयोगियों की लिस्ट सौंपना एक गलत फैसला माना जा सकता है. गौरतलब है कि संघर्ष के दौरान अमेरिका और अन्य गठबंधन बलों के साथ सहयोग करने वाले अफगानी नागरिकों की निर्ममता से हत्या तालिबान इतिहास इस बात की पुष्टि करता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>लिस्ट सौंपे जाने से सैन्य अधिकारी और सांसद नाराज</strong></p>
<p style="text-align: justify;">वहीं इस कदम से सैन्य अधिकारी और सांसद काफी खफा है. एक डिफेंस ऑफिसर ने इस लिस्ट को हत्या की लिस्ट करार दिया है. गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जो बाइडेन ने कहा था कि उन्हें ऐसी किसी लिस्ट के बारे में कोई जानकारी नहीं है. हालांकि उन्होंने इस बात से मना नहीं किया कि अमेरिका कभी-कभी तालिबान को ऐसे नाम सौंपता है. बाइडेन ने कहा,&rdquo;ऐसे मौके आए हैं जब हमारी सेना ने तालिबान में अपने सैन्य समकक्षों से कॉन्टेक्ट किया है. मेरी जानकारी के मुताबिक इस तरह के ज्यादातर मामलों में लोगों को छोड़ा गया है.&rdquo;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>तालिबान विदेशी सैनिको के अफगान सहयोगियों की कर रहा है तलाश</strong></p>
<p style="text-align: justify;">वहीं लिस्ट सौंपे जाने को चिंता की बात इसलिए भी कहा जा रहा है क्योंकि तालिबान विदेशी सैनिकों के अफगान सहयोगियों को ढूंढ रहा है. हाल ही में ये भी खबर आई थी कि लड़ाके काबुल में लोगों के&nbsp; घरों में घुसकर ऐसे लोगों की तलाश की जा रही है. आतंकवादियों ने ये धमकी भी दी है कि ये लोग अगल सामने नहीं आए तो इसकी कीमत उनके परिवार को चुकानी पड़ेगी.</p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/news/world/afghanistan-news-live-hamid-karzai-international-airport-live-updates-in-kabul-know-in-details-1959361"><strong>Afghanistan News Live: काबुल एयरपोर्ट बम धमाकों में अब तक 100 से ज्यादा लोगों की मौत, 150 लोग घायल</strong></a></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/news/world/most-dangerous-terrorist-group-of-isis-is-khorasan-know-everything-about-enemy-of-taliban-1959483"><strong>ISIS का सबसे खतरनाक आतंकी गुट है ‘खोरासान’, जानिए तालिबान के दुश्मन के बारे में सबकुछ</strong></a></p>



Source