काबुल में ताबड़तोड़ रॉकेट हमले, अंधेरे में डूबा शहर का बड़ा इलाका

0
39
Article Top Ad


Image Source : AP REPRESENTATIONAL
अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में स्थित एक इलेक्ट्रिकल सबस्टेशन पर गुरुवार को कई रॉकेट दागे गए हैं।

काबुल: अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में स्थित एक इलेक्ट्रिकल सबस्टेशन पर गुरुवार को कई रॉकेट दागे गए। अफगान मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, काबुल के खैर खाना इलाके में रॉकेट से हमला हुआ है। इलाके में एक साथ कई रॉकेट दागे गए हैं। राजधानी के चमतला और PD11 में भी रॉकेट से हमले की खबर है। चमतला इलेक्ट्रिकल सबस्टेशन पर कई रॉकेट दागे गए हैं। सबस्टेशन पर हमले के चलते शहर के कई इलाकों में बिजली गुल हो गई है।

बता दें कि तालिबान ने बीते 15 अगस्त को अफगानिस्तान की सत्ता पर कब्जा कर लिया था। इसके बाद 7 सितंबर को कार्यवाहक सरकार के मंत्रिमंडल की घोषणा करते हुए मुल्ला हसन अखुंद को प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया। इस मंत्रिमंडल में अमेरिका नीत गठबंधन और अफगान सरकार के सहयोगियों के खिलाफ 20 साल तक चली जंग में दबदबा रखने वाली तालिबान की शीर्ष हस्तियों को शामिल किया गया था। तालिबान के पिछले शासन के अंतिम वर्षों में अखुंद ने अंतरिम प्रधानमंत्री के तौर पर काबुल में तालिबान की सरकार का नेतृत्व किया था। हालांकि तालिबान की नई सरकार के खिलाफ चुनौतियां कम नहीं हैं और अभी भी अफगानिस्तान में पंजशीर के लड़ाकों की तरफ से उसे चुनौती मिल सकती है।

अमेरिका के साथ वार्ता का नेतृत्व करने वाले मुल्ला गनी बरादर को उपप्रधानमंत्री बनाया गया है। बरादर ने अमेरिका के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये थे, जिसके तहत अमेरिका पूरी तरह अफगानिस्तान से बाहर निकल गया था। इस सरकार में गैर-तालिबानियों को जगह नहीं दी गई जबकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय की सबसे बड़ी मांग है कि अफगानिस्तान में समावेशी सरकार का गठन होना चाहिए। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने मंत्रिमंडल की घोषणा करते हुए कहा था कि यह नियुक्तियां अंतरिम सरकार के लिए की गई हैं।





Source