ड्रैगन की हरकत: अमेरिका की सॉफ्टवेयर कंपनी की रिपोर्ट में दावा, पाकिस्तान सरकार के संवेदनशील डेटा तक पहुंचा चीन

0
63
Article Top Ad


  • Hindi News
  • International
  • The US Software Company’s Report Claims; China Accessing Sensitive Data Of Pakistan Government, Spying

वॉशिंगटन/इस्लामाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हुवावे पर पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए संवेदनशील डेटा तक पहुंच हासिल करने, हेरफेर करने और निकालने के लिए चीन से लाहौर में पिछले दरवाजे के रूप में सॉफ्टवेयर का उपयोग करने का आरोप है।

चीन अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहा है। छोटे देशों को कर्जा बांटकर वह उनके क्षेत्र पर कब्जा तो करता ही है, लेकिन अब उसने उन देशों की जासूसी भी शुरू कर दी है। ताजा मामला पाकिस्तान से जुड़ा है। चीन की टेक दिग्गज कंपनी हुवावे पर आरोप है कि वह पाकिस्तानी सरकार और वहां के लोगों की जासूसी कर रही है।

इतना ही नहीं पाक सरकार के संवेदनशील डेटा तक पहुंच गई है। दक्षिण एशिया प्रेस ने अमेरिकी कंपनी की रिपोर्ट के हवाले से यह जानकारी दी है। दक्षिण एशिया प्रेस ने कहा कि हुवावे ने अमेरिका स्थित एक सॉफ्टवेयर कंपनी बिजनेस एफिशिएंसी सॉल्यूशंस (बीईएस) द्वारा व्यापार रहस्य चुराए और पाकिस्तानियों की भी जासूसी की।

हुवावे के अधिकारियों ने टेस्टिंग के लिए डेटा मांगा
साउथ एशिया प्रेस ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि BES ने कहा कि उसने प्रोजेक्ट के लिए 8 सॉफ्टवेयर बनाए जो सरकारी एजेंसियों से डेटा जमा करता है, सोशल मीडिया पर नजर रखता है और ड्रोन मैनेज करता है। बाद में हुवावे के अधिकारियों ने टेस्टिंग के लिए डेटा मांगा और अपने लैब में BES के प्राधिकरण को खत्म कर दिया।

हुवावे के अधिकारियों ने टेस्टिंग के लिए डेटा मांगा ​​​​​​​
​​​​​​​शिकायत के मुताबिक, हुवावे ने अब तक कोई भी गोपनीय सॉफ्टवेयर डिजाइन टूल BES को वापस नहीं किया है। शिकायत में हुवावे पर पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण संवेदनशील डेटा तक पहुंच हासिल करने, हेरफेर करने और निकालने के लिए चीन से लाहौर में पिछले दरवाजे के रूप में सॉफ्टवेयर का उपयोग करने का आरोप है। बीईएस ने यह भी कहा है कि हुवावे पाकिस्तान के साथ ही दुनियाभर के कई ऐसे प्रोजेक्ट्स के साथ छेड़छाड़ और दुरुपयोग कर रही है।

खबरें और भी हैं…



Source