घरेलू एविएशन इंडस्ट्री को राहत की आस: कोरोना के नए मामलों में गिरावट से घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या बढ़ने की उम्मीद, सरकार की ढील से भी मिलेगी मदद

0
55
Article Top Ad


  • Hindi News
  • Business
  • Indian Government Increases Passenger Capacity In Domestic Flights From 50 Percent To 65

मुंबई13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

देश में कोरोना के नए मामलों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। सोमवार को कोरोना संक्रमण के 34,026 नए मामले सामने आए।बीते दिन आया कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पिछले 111 दिनों में सबसे कम है। ऐसे में सिविल एविएशन मिनिस्ट्री ने घरेलू उड़ानों में पैसेंजर क्षमता 50% से बढ़ाकर 65% कर दी है।

जून में पैसेंजर ट्रैफिक 41-42% बढ़ा
रेटिंग एजेंसी इक्रा (ICRA) के मुताबिक घरेलू एयर पैसेंजर ट्रैफिक जून में बढ़कर करीब 29-30 लाख रहा, जो मई में 19.8 लाख ही था। क्योंकि कोरोना की दूसरी लहर के चलते केवल आवश्यक यात्रा ही हुईं। जून में मई से 41-42% ज्यादा पैसेंजर ट्रैफिक रहा। वहीं, 7 मई 2020 से 30 जून 2021 के बीच करीब 37 लाख इंटरनेशनल पैसेजेंर ट्रैफिक रहा।

वॉल्यूम के लिहाज से घरेलू पैसेंजर पिछले साल से 51% ज्यादा रहे। जून 2020 में दो महीने के बैन के बाद घरेलू उड़ाने शुरू हुई थी, जो 25 मई से जारी थी। वहीं, दूसरी लहर के प्रकोप को देखते हुए इस साल मई में पैसेंजर क्षमता 80% से घटाकर 50% कर दी गई थी।

जून में हर दिन करीब 1100 फ्लाइट्स ने उडा़न भरी
जून 2021 में हर दिन औसतन करीब 1100 फ्लाइट्स ने उडा़न भरी, जो पिछले साल जून में 700 ही थी। वहीं, मई 2021 में करीब 900 और अप्रैल में लगभग 2000 फ्लाइट्स ने उड़ान भरीं। रिपोर्ट के मुताबिक जून में हर फ्लाइट में औसतन 94 पैसेंजर्स ने यात्रा की, जो मई में 77 था।

इक्रा के मुताबिक सरकार ने हाल ही में रिजनल लेवल टूरिस्ट गाइड को पर्सनल लोन/ वर्किंग कैपिटल को फाइनेंशियल सपोर्ट देने का ऐलान किया है। इससे टूरिज्म और ट्रैवल स्टेकहोल्डर्स को नगदी की किल्लत से राहत की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं…



Source