चलन में प्रत्येक बैंकनोट में हर तीसरा नोट 500 रुपये का, जानिए किस साल कितने नोटों की हुई छपाई

0
42
Article Top Ad



<p style="text-align: justify;"><strong>मुंबई</strong><strong>:</strong>&nbsp;भारतीय रिजर्व बैंक की कल जारी वार्षिक रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्तमान में चलन में प्रत्येक बैंकनोट में तीसरा नोट 500 का है. मूल्य के हिसाब से चलन में मौजूद नोटों में 500 और 2,000 के नोटों का हिस्सा 85.7 प्रतिशत है. मात्रा के हिसाब से 31 मार्च, 2021 तक चलन में मौजूद नोटों में 500 रुपए के नोट का हिस्सा सबसे ज्यादा 31.1 प्रतिशत था. उसके बाद 10 रुपए के नोट का नंबर आता है. इसका हिस्सा 23.6 प्रतिशत था.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>जानिए आरबीआई ने 2019,2020 और 2021 में कितने मुल्य के 500 के नोट छापे-</strong></p>
<ul style="text-align: justify;">
<li><strong>साल 2019</strong></li>
</ul>
<p style="text-align: justify;">नोट छपे- 21517.60</p>
<p style="text-align: justify;">कितने मूल्य के- 10758800 (संख्या करोड़ में)</p>
<ul style="text-align: justify;">
<li><strong>साल 2020</strong></li>
</ul>
<p style="text-align: justify;">नोट छपे- 29447.50</p>
<p style="text-align: justify;">कितने मूल्य के- 1472373 (संख्या करोड़ में)</p>
<ul style="text-align: justify;">
<li><strong>साल 2021</strong></li>
</ul>
<p style="text-align: justify;">नोट छपे- 38679</p>
<p style="text-align: justify;">कितने मूल्य के- 1933951 (संख्या करोड़ में)</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>500 </strong><strong>और </strong><strong>2,000 </strong><strong>रुपये के नोटों का हिस्सा </strong><strong>83.4 </strong><strong>प्रतिशत </strong></p>
<p style="text-align: justify;">रिपोर्ट के मुताबिक, 31 मार्च, 2021 तक चलन में मौजूद कुल बैंक नोटों में 500 और 2,000 रुपये के नोटों का हिस्सा 85.7 प्रतिशत था. वहीं, 31 मार्च, 2020 के अंत तक यह आंकड़ा 83.4 प्रतिशत था. 2020-21 में बैंक नोटों के लिए ऑर्डर एक साल पहले की तुलना में 9.7 प्रतिशत कम रहे. सप्लाई भी एक साल पहले की तुलना में 0.3 प्रतिशत कम रही.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>2,000 </strong><strong>रुपए के नए नोटों की कोई सप्लाई नहीं</strong></p>
<p style="text-align: justify;">पिछले साल की तरह वित्त वर्ष 2020-21 में 2,000 रुपए के नए नोटों की कोई सप्लाई नहीं हुई है. रिजर्व बैंक ने पिछली बार 2018-19 में 467 लाख 2000 रुपए के नोटों की सप्लाई की थी. आरबीआई ने 20 रुपए के नोटों की सप्लाई 2019-20 में 13,390 लाख नोटों से बढ़ाकर 2020-21 में 38,250 लाख नोट कर दी है.</p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि चलन में मौजूद मुद्रा में नोट और सिक्के आते हैं. अभी रिजर्व बैंक 2, 5, 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2,000 रुपए के नोट जारी करता है. साथ ही केंद्रीय बैंक 50 पैसे, 1, 2, 5, 10 और 20 रुपए के सिक्के भी जारी करता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें-</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a href="https://www.abplive.com/news/india/rbi-report-no-fresh-supply-of-2-000-notes-in-fy21-500-denomination-highest-in-volume-1919641">RBI ने कहा- वित्त वर्ष 2021 में नहीं हुई 2000 के नोटों की सप्लाई, नोटबंदी के बाद 500 के नोट का चलन सबसे ज्यादा</a></strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a href="https://www.abplive.com/news/india/india-coronavirus-cases-today-28-may-2021-new-cases-deaths-corona-second-wave-update-1919690">Corona Update: देश में 44 दिन बाद सबसे कम मामले आए, 24 घंटे में 1.86 लाख संक्रमित हुए</a></strong></p>



Source