रेलवे की माल ढुलाई 10% बढ़ी, मई 2021 में 9279 करोड़ रुपए की आय

0
25
Article Top Ad


Photo:PTI

माल ढुलाई 10% बढ़ी

नई दिल्ली। कोरोना काल में भी भारतीय रेलवे शानदार प्रदर्शन कर रही है महामारी के बीच मालढुलाई में रेलवे लगातार तेज ग्रोथ दर्ज कर रही है। 2021-22 में अब तक भारतीय रेलवे ने माल ढुलाई में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की है। वहीं मई 2021 के महीने में भी माल ढुलाई के आंकड़े में गति बनी हुई है। मई 2021 में भारतीय रेल ने माल ढुलाई से 9278.95 रुपए की आय अर्जित की।

भारतीय रेल ने वित्त वर्ष 2021-22 में 203.88 मिलियन टन (एमटी) का माल लोड किया जो कि वर्ष 2019-20 की समान अवधि के आंकड़े (184.88 एमटी) से 10 प्रतिशत अधिक है। वहीं भारतीय रेल की माल ढुलाई मई 2021 में 92.29 एमटी रहा जो मई 2019 (83.84 एमटी) से 10 प्रतिशत अधिक और मई 2020 (64.61एमटी) से 43 प्रतिशत अधिक है।    मई 2021 में जिन महत्वपूर्ण सामग्रियों को भेजा गया गया उनमें 9.7 करोड़ टन कोयला, 2.7 करोड़ टन लौह अयस्क, 78.9 लाख टन खाद्यान्न, 53.4 लाख टन उवर्रक, 60.9 लाख टन खनिज तेल, 1.11 करोड़ टन सीमेंट (धातु के तलछट को छोड़ कर) तथा 82 लाख टन धातु के तलछट शामिल हैं। 

इस महीने वैगन टर्न अराउंड अवधि में 27 प्रतिशत का सुधार देखा गया। मई 2021 में वैगन टर्न अराउंड समय 4.83 दिनों का रहा जबकि मई 2019 में यह 6.61 दिन था। कोरोना संकट के बीच अवसर तलाशने के लिए भारतीय रेल अनेक रियातें और छूट दे रही है, वहीं बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर की मदद मालगाड़ियों की बढ़ती रफ्तार से भी उद्योग रेलवे की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। माल गाड़ियों की गति बढ़ाए जाने से लागत में कमी आती है। मई 2021 में माल गाड़ियों की औसत गति 45.42 किमी प्रति घंटे रही है जो समान अवधि की 36.84 किमी प्रति घंटे की तुलना में 23 प्रतिशत अधिक है।

यह भी पढ़ें- जानिये क्यों पर्सनल लोन से बेहतर है गोल्ड लोन, कहां मिल रहा है सबसे सस्ता कर्ज

यह भी पढ़ें- किसान क्रेडिट कार्ड से कर्ज चुकाने में मिली राहत, आप भी ऐसे बनवायें अपना KCC और उठायें फायदा 

 





Source