काली उड़द की दाल सेहत के लिए हो सकती है नुकसानदायक, जानें जरूरी बातें

0
69
Article Top Ad


Black Gram Urad Dal And Its Side Effects : काली छिलके वाली उड़द की दाल खाने में जितनी स्वादिष्ट होती होती है यह सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद है. इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, विटामिन बी-6, आयरन, फोलिक एसिड, कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. यह हमारे हार्ट के साथ साथ हमारे नर्वस सिस्टम तक के लिए अच्छा माना जाता है.

क्‍या हैं फायदे

वनएमजी के मुताबिक, इस दाल की तासीर ठंडी होती है और यह कई बीमारियों में वरदान की तरह काम करती है. आयुर्वेद में इसका प्रयोग सिरदर्द को ठीक करने, नकसीर को ठीक करने, लिवर का सूजन कम करने, लकवा ठीक करने, जोड़ों में दर्द, अल्‍सर, बुखार, सूजन आदि को ठीक करने में प्रयोग किया जाता है. लेकिन दूसरी ओर काली उड़द दाल के सेवन से आपको कई तरह के नुकसान भी हो सकते हैं.

क्‍या क्‍या हैं नुकसान1.बढ़ सकता है यूरिक एसिड

हेल्‍थसाइट के मुताबिक, काली उड़द दाल का अगर अधिक सेवन किया जाए तो ब्‍लड में यूरिक एसिड बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है जिससे आपकी किडनी में कैल्सीफिकेशन स्टोन बन सकते हैं. ऐसे में जिन लोगों को किडनी या गुर्दे में स्टोन की समस्या है उन्‍हें तो उड़द की दाल खाने के लिए बिलकुल मना किया जाता है.

इसे भी पढ़ें : Health Tips: बीमारियों से रहना है दूर तो रोज चलिए पैदल, जानें इसके 7 फायदे

2.गठिया की संभावना

गठिया की बीमारी से पीड़ित मरीजों को भी उड़द की दाल का सेवन मना होता है.  इसके सेवन से उनकी समस्‍या और बढ़ सकती है. यही नहीं, अगर उड़द की दाल का अधिक सेवन कोई करे तो उसे पित्त की पथरी या गाउट भी बढ़ने की समस्‍या हो सकती है. ऐसे में अगर आप इस तरह की किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो उड़द की दाल का सेवन बिल्कुल भी ना करें.

इसे भी पढ़ें : तेजपत्‍ते का काढ़ा पीने से मिनटों में दूर होता है दर्द, जानें इसके फायदे और बनाने की विधि

3.अपच की समस्‍या

इसके अत्‍यधिक सेवन से अपच की समस्या हो सकती है. यही नहीं, उड़द दाल का अधिक सेवन किया जाए तो से कब्ज की समस्या भी हो सकती है. ऐसे में जिन लोगों को गैस की समस्‍या, कब्‍ज या इनडायजेशन जैसी समस्‍या है उन्‍हें डॉक्‍टर से सलाह लेने के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)





Source