Corona third wave second dose of vaccination covishield covaxin questions answered by AIIMS doctor Avdhesh Chandra podcast by pooja prasad pur | जानें कोविड की तीसरी लहर, वैक्सीन की दूसरी डोज़ और खतरों पर विशेषज्ञ की राय

0
55
Article Top Ad


कोरोना के बदलते रूप और वैक्सीनेशन को लेकर अभी भी मन में उलझनें बरकरार हैं. इसलिए ऐसे तमाम कन्फ्यूजन दूर करने के लिए आज हम बात करने जा रहे हैं डॉक्टर अवधेश चंद्रा से.


(पूजा प्रसाद)

नमस्कार साथियों, कोरोना की तीसरी लहर की चर्चा लगातार हो ही रही है. हम बार-बार सुन रहे हैं कोरोना के नए वेरिएंट के बारे में. कभी डेल्टा तो कभी डेल्टा पल्स और अब कम्पा, जिसके 11 मामले राजस्थान में मिले हैं. लेकिन सच तो यह है कि कोरोना के बदलते रूप और वैक्सीनेशन को लेकर अभी भी मन में उलझनें बरकरार हैं. इसलिए ऐसे तमाम कन्फ्यूजन दूर करने के लिए आज हम बात करने जा रहे हैं डॉक्टर अवधेश चंद्रा से. डॉक्टर अवधेश एम्स में डिपार्टमेंट ऑफ कार्डियोलॉजी में सीनियर रिसर्च साइंटिस्ट है. हमने उनसे इन सवालों पर बातचीत की जिनके जवाब आप इस पॉडकास्ट में सुन सकते हैं…

पहला सवाल यह है कि कोरोना कि जो लहर आई नहीं, उसके आने के बारे में या उसके असर के बारे में अनुमान कैसे लगा लिया जाता है? या तीसरी लहर आएगी भी या नहीं, इसके बारे में क्या निश्चितता है?

क्या तीसरी लहर को रोका नहीं जा सकता? या अगर हम इसे रोक सकते हैं तो कैसे?

कोविड महामारी ने ये जो रूप ले रखा है और यह जो बार बार विकराल रूप में सामने आ जाता है, आपकी निगाह में उसकी वजह क्या है?

वैक्सीनेशन को लेकर बहुत कन्फ्यूजन आज भी देखा जा रहा है. एक सवाल तो यह भी मन में उठता है कि कोराना की तीसरी लहर पर यह कितना असरदार होगी?

भविष्य में बूस्टर डोज की बात आप कहने जा रहे हैं. लेकिन बूस्टर डोज से पहले, अभी तो वैक्सीन की डोजेस को लेकर ही कुछ असमंजस हैं, मसलन क्या पहली डोज लेकर छोड़ दें तो हम सुरक्षित नहीं, दूसरी डोज लेना अनिवार्य है? या दूसरी डोज कब लें? या पहली डोज कितने दिनों तक असरदार होती है?

आपकी बात से यह बात समझ में आ गई कि वैक्सीन के अलावा इस कोविड से बचने का कोई उपाय नहीं. हमें वैक्सीनेशन करवा लेना चाहिए. अब आखिरी बात ये कि आप हमारे श्रोताओं को क्या संदेश देना चाहेंगे?

तो दोस्तो, अभी आप सुन रहे थे डॉ. अवधेश चंद्र को, एक बार फिर से आपकी और हमारी ओर से डॉक्टर साहब का शुक्रिया. अगली बार हम फिर मिलेंगे ऐसे ही कुछ सवालों के साथ किसी और विशेषज्ञ से. तब तक के लिए पूजा प्रसाद को दें इजाजत. नमस्कार.





Source