Make Your Own Mask: जानें घर पर कैसे बनाएं अपना मास्क, ओमिक्रॉन से बचने के लिए कौन सा मास्क है बेहतर

0
32
Article Top Ad


Make Your Own Mask: ‘दो गज दूरी, मास्क है जरूरी’ ये बात एक बार फिर से लोगों की जुबान पर चढ़ गई है. दुनियाभर के कई देशों में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने आतंक मचाना शुरू कर दिया है. वहीं भारत में भी ओमिक्रॉन के कई मामले नजर आने लगे हैं. मुंबई और दिल्ली में फिलहाल हालत काफी बुरी है. इन दोनों राज्यों में कई लोग इस समय कोरोना और ओमिक्रॉन से पीड़ित हैं. कई लोग होम आईसोलेशन पर हैं तो वहीं कई लोगों की हालात इतनी खराब है कि उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. मुंबई में जहां एक बार फिर से लॉकडाउन लगने के आसार नजर आ रहे हैं वहीं दिल्ली में वीकेंड लॉकडाउन का आगाज कर दिया गया है. ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को देखते हुए देशभर के कई राज्यों में नाईट कर्फ्यू लागू है. स्कूल, कॉलेजों को एक बार फिर से बंद कर दिया गया है.

सामाजिक समारोह में 20 से अधिक लोगों को अनुमति नहीं मिल रही है. ऐसे में खुद को और दूसरों को सुरक्षित रखना ही एकमात्र बचाव का जरिया है. ओमिक्रॉन से बचने के लिए अनिवार्य रूप से मास्क पहनें, हाथों को बार बार हैंडवॉश से धोएं या फिर अच्छी तरह से सैनिटाइज करें, सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं या फिर जरूरत न पड़ने पर घर से बाहर न निकलें. पहले भी बताया गया है कि कोरोना वायरस के खिलाफ फिलहाल ‘फेस मास्क’ (Face Mask) ही एक बड़ी ढाल है. वायरस के चलते मास्क के बड़े बाजार ने जन्म लिया है.

इसे भी पढ़ें : विंटर फ्रूट्स को और अधिक हेल्‍दी बनाने के लिए जरूर ट्राई करें ये हैक्‍स, डाइट में रोज करेंगे इस्‍तेमाल

हर व्यक्ति घर से बाहर निकलने पर मास्क पहन रहा है. लेकिन क्या आपको मालूम है कि आपको अपना मास्क कितने समय बाद बदल देना चाहिए और कौन सा मास्क आपको पहनना चाहिए जो आपका संक्रमण से पूरी तरह बचाव कर सके. साथ ही अगर आप बाहर से मास्क नहीं खरीद पा रहे हैं तो आप बड़ी ही आसानी से घर पर ही अपना मास्क तैयार कर सकते हैं. आइए आपको बताते हैं कैसे बनाएं मास्क और किस तरह करें अपनी सुरक्षा.

घर पर कैसे बनाएं अपना फेस मास्क
डॉक्टरों की मानें तो कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ मास्क पहनना भी बेहद जरूरी है. रिसर्च बताती हैं कि कोरोना के फैलने के बाद जिन देशों ने अपने यहां मास्क पहनना अनिवार्य किया, वहां दूसरे देशों की तुलना में कोरोना को रोकने में ज्यादा मदद मिली. खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का कहना है कि बाहर निकलने पर मास्क जरूर पहनें और सोशल डिस्टेंसिंग जरूर अपनाएं. कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के चलते लोगों ने दोबारा से भारी संख्या में फेस मास्क (Face Mask) खरीदने शुरू कर दिए हैं. इसके चलते मार्केट से मास्क की भारी मांग दिखाई दे रही है. ऐसे में आप घर बैठकर भी अपने लिए मास्क बना सकते हैं. आइए आपको बताते हैं घर पर आसानी से मास्क बनाने का तरीका.

-मास्क बनाने के लिए सबसे पहले 100% सूती कपड़ा लें क्योंकि छोटे माइक्रोन वाले कण भी इससे रुक जाते हैं. कपड़े को चौकोर आकार में काटकर बीच में से मोड़ लें.

-इसके बाद सूती कपड़े की फिर दो और लेयर में मोड लें क्योंकि कई लेयर से मास्क ज्यादा सुरक्षित हो जाए. इससे वायरस आपके नाक और मुंह के अंदर प्रवेश नहीं कर पाएगा.

-इसके बाद दो रबड़ बैंड, एलास्टिक या बाल बांधने वाली रबड़ लें और एक दूसरे से छह इंच की दूरी पर कपड़े पर रखें. फिर कपड़े के दोनों किनारों को मोड़कर सिल दें.

-इस तरह आप घर बैठे आसानी से अपना मास्क बना सकते हैं. घर पर बने कपड़े के मास्क को आसानी से धोकर दोबारा भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इसे साबुन और डिटॉल की मदद से धोकर दोबारा इस्तेमाल में लाया जा सकता है. हालांकि इसका ज्यादा इस्तेमाल न करें. 5 से 6 बार इस्तेमाल करने के बाद इसे बदल दें.

कौन सा मास्क है सबसे ज्यादा प्रभावी
बाजारों में तरह-तरह के कपड़े, सर्जिकल और एन-95 मास्क उपलब्ध हैं. हालिया अध्ययन के मुताबिक, सर्जिकल और कपड़े के मास्क 70 फीसदी तक प्रभावी हैं. मेडिकल गाइडलाइन के मुताबिक, थ्री प्लाई मास्क और फिटिड मास्क पहनना ही कोरोना से बचाव में सबसे ज्यादा प्रभावी है. आपको बता दें कि कपड़े और सर्जिकल मास्क को धोने के बाद उनका प्रभाव कम होता जाता है और यह संक्रमण की चेन को तोड़ने में नाकामयाब हो जाते हैं.

मास्क को कैसे साफ और स्टोर करें
पिछले काफी समय से लोग कोरोना वायरस के साए में जी रहे हैं और विश्व स्वास्थ्य संगठन के आदेशानुसार, सार्वजनिक रूप से मास्क पहनना अनिवार्य है. यह जानना भी जरूरी है कि इनको कैसै साफ-सुथरा रखा जाए. ध्यान रहे कि मास्क को साफ जगह पर ही रखा जाए. मास्क का हाइजेनिक होना आपके स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत जरूरी है. मास्क को घर में कहीं भी न फेंकें. रूम में एक ऐसी जगह चुनें, जहां मास्क पर गंदगी न जमें. इन्हें ज्यादा केमिकल से न धोएं.

कब बदलें मास्क
आप अपने मास्क को नियमित रूप से धोकर लंबे समय से बार-बार इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन याद रहे उनकी भी एक एक्सपायरी डेट होती है. हालांकि यह निश्चित नहीं है, लेकिन यह मास्क के कपड़े की क्वालिटी पर निर्भर करता है. यह इस बात पर भी निर्भर करता है आप इसे कितने समय से पहन रहे हैं. उदाहरण से समझिए, अगर आप रोजाना सफर के दौरान ज्यादा से ज्यादा लोगों के संपर्क में आते हैं तो आपको जल्द से जल्द मास्क बदलने की जरूरत है. मास्क के फटने, कपड़ा धीला होने पर इसे तुरंद बदल दें.

डस्टबीन में कब डालें मास्क
-मास्क को बदलने के लिए ऊपर दिए गए कुछ कारणों के अलावा आप अपना मास्क इन वजहों से भी कचरे के डिब्बे में डाल सकते हैं.

-यदि आप अपना मास्क मुंह और नाक पर बार-बार एडजस्ट करते हैं तो वक्त आ गया है इसे बाय-बाय कह दें.

-मास्क की इलास्टिक को चेक कीजिए. इनके ढीले होने पर मास्क मुंह और नाक को अच्छे से कवर नहीं कर पाएगा. अगर ऐसा होता है तो समझ जाइए नया मास्क खरीदना है.

-मास्क के बार-बार धोने पर वह झरझरा गया है या पतला हो गया है तो तुरंत डस्टबीन में डाल दें.

-यदि आपके मास्क में कोई छेद हो गया है तो इसे दोबारा पहनने की गलती बिल्कुल न करें. छेद छोटा हो या बड़ा भलाई इसी में है कि उसे तुरंत डिस्पॉज कर दिया जाए.

यह भी पढ़ें: वेट घटाने वालों को कोरोना से जुड़ी गंभीर जटिलताओं का खतरा कम: स्टडी

आपके पास होने चाहिए कितने मास्क
अगर आप अभी भी अपने सबसे पहले मास्क को पहन रहे हैं तो यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है. कोशिश करें कि आपके पास दो से तीन मास्क जरूर हों. सफर के दौरान एक से ज्यादा मास्क रखना आपके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होगा. पसीने आने की स्थिति में मास्क पूरी तरह गीला हो जाता है. गीला मास्क आपको सांस लेने में तकलीफ पैदा करेगा. इसलिए जरूरी है कि आप दो से तीन मास्क अपने पास जरूर रखें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source