केजरीवाल को कोरोना, पंजाब में हड़कंप: दिल्ली के CM ने बिना मास्क के चंडीगढ़-पटियाला में की थी रैली; अमृतसर-जालंधर में धार्मिक स्थानों भी पर गए

0
43
Article Top Ad


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Arvind Kejriwal Corona Positive, Kejriwal Held Rally In Chandigarh And Patiala Without Mask, Went To Religious Places In Amritsar

चंडीगढ़2 मिनट पहलेलेखक: मनीष शर्मा

  • कॉपी लिंक

पटियाला के शांति मार्च में भीड़ के बीच बिना मास्क पहने हुए अरविंद केजरीवाल।

दिल्ली के CM और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के कोरोना पॉजिटिव आने से पंजाब-चंडीगढ़ में भी हड़कंप मच गया है। केजरीवाल ने सोमवार को देहरादून में सभा की थी, तो वहीं कुछ दिन पहले चंडीगढ़ और पटियाला में भी रैली की थी। इसके अगले दिन नए साल पर वे अमृतसर में धार्मिक स्थानों पर माथा टेकने गए थे। इनमें से किसी जगह केजरीवाल मास्क लगाए नहीं दिखे थे।

अरविंद केजरीवाल पंजाब और उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं। अपने पंजाब दौरे पर उन्होंने कई नेताओं से मुलाकात की थी। उनके पॉजिटिव आने के बाद पंजाब में चुनावी रैलियों को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं।

चंडीगढ़ की रैली में केजरीवाल के साथ लोगों की भीड़, जहां कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया।

चंडीगढ़ की रैली में केजरीवाल के साथ लोगों की भीड़, जहां कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया।

चंडीगढ़ में की थी विजय रैली
अरविंद केजरीवाल ने चंडीगढ़ में 30 दिसंबर को विजय रैली की थी। यह विजय रैली चंडीगढ़ नगर निगम में आम आदमी पार्टी को 35 में से 14 सीटें जीतने पर की गई थी। सेक्टर 22 की अरोमा लाइट्स से सेक्टर 23 की लाइट्स तक रैली निकाली गई थी। इसमें भारी भीड़ उमड़ी थी। सैकड़ों लोगों की मौजूदगी के बावजूद केजरीवाल और दूसरे आप नेताओं ने मास्क नहीं पहने थे। इसके बाद केजरीवाल ट्रक यूनियन के धरने में भी गए थे।

पटियाला में विजय रैली में भगवंत मान और अरविंद केजरीवाल, दोनों ने ही मास्क नहीं लगाया हुआ था।

पटियाला में विजय रैली में भगवंत मान और अरविंद केजरीवाल, दोनों ने ही मास्क नहीं लगाया हुआ था।

पटियाला में शांति मार्च के दिन हुआ कोरोना ब्लास्ट
पटियाला में 31 दिसंबर को अरविंद केजरीवाल ने शांति मार्च निकाला था। यह शांति मार्च पंजाब के स्वर्ण मंदिर में हुई बेअदबी और लुधियाना में हुए बम धमाके को लेकर था। इस मार्च में भी सैकड़ों लोगों की भीड़ उमड़ी थी। जिसमें न किसी ने मास्क पहना और न ही किसी के बीच कोई सोशल डिस्टेंस रहा। यहां तक कि केजरीवाल खुद भी बिना मास्क के लोगों की भीड़ के बीच में घूमते रहे थे।

वहां संगरूर से सांसद भगवंत मान केजरीवाल के साथ-साथ रहे। जिस दिन 31 दिसंबर को केजरीवाल का मार्च हुआ, पटियाला में 71 लोग पॉजिटिव आए और एक की मौत हुई थी। इसके बाद पटियाला में कोरोना की रफ्तार काफी तेज हो चुकी है। 1 जनवरी को पटियाला में 98 केस, 2 जनवरी को 133 केस और 3 जनवरी को 143 केस सामने आए हैं।

पटियाला में केजरीवाल गुरुद्वारा साहिब में माथा टेकने पहुंचे थे, इस दौरान भी उन्होंने मास्क नहीं लगाया था।

पटियाला में केजरीवाल गुरुद्वारा साहिब में माथा टेकने पहुंचे थे, इस दौरान भी उन्होंने मास्क नहीं लगाया था।

भगवंत मान ने भी की रैलियां
पटियाला में रैली के बाद केजरीवाल अगले दिन अमृतसर से होते हुए दिल्ली चले गए, लेकिन उनके साथ बिना मास्क के भगवंत मान ने कई जिलों में रैलियां की। पटियाला के अलावा मोगा समेत कई इलाकों में भगवंत मान ने रैली की थी। जिसमें कहीं भी भगवंत मान ने मास्क नहीं पहना हुआ था।

अमृतसर स्थित राम तीर्थ में अरविंद केजरीवाल माथा टेकने पहुंचे थे, यहां भी उन्होंने और आप नेताओं ने मास्क नहीं पहना था।

अमृतसर स्थित राम तीर्थ में अरविंद केजरीवाल माथा टेकने पहुंचे थे, यहां भी उन्होंने और आप नेताओं ने मास्क नहीं पहना था।

पटियाला, अमृतसर और जालंधर धार्मिक जगहों पर गए
पंजाब दौरे के दौरान अरविंद केजरीवाल ने पटियाला में काली माता मंदिर और गुरुद्वारा श्री दुख निवारण साहिब में ऊी माथा टेका था। इसके बाद वे नए साल के पहले दिन अमृतसर गए थे, जहां उन्होंने श्रीराम तीर्थ स्थान में माथा टेका। फिर जालंधर जाकर डेरा सचखंड बल्लां में माथा टेका था। इस दौरान वे कहीं भी मास्क पहने नजर नहीं आए।

पटियाला स्थित काली माता मंदिर में माथा टेकने पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल, यहां भी बिना मास्क के ही पहुंचे थे।

पटियाला स्थित काली माता मंदिर में माथा टेकने पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल, यहां भी बिना मास्क के ही पहुंचे थे।

सबको अपना टेस्ट करवाना चाहिए : चीमा
आम आदमी पार्टी के पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता हरपाल चीमा ने कहा कि सभी लोगों को एहतियात बरतनी चाहिए। सभी को अपना टेस्ट करवाना चाहिए। उन्होंने पंजाब में हो रही चुनाव रैलियों को लेकर कहा कि आयोग को सभी पार्टियों से मीटिंग कर इसके बारे में फैसला लेना चाहिए।

अमृतसर में केजरीवाल ने कुछ नेताओं को पार्टी में शामिल करवाया था। उनके साथ नजर आ रहे आप नेता राघव चड्‌ढा ने चंडीगढ़ में प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की lR।

अमृतसर में केजरीवाल ने कुछ नेताओं को पार्टी में शामिल करवाया था। उनके साथ नजर आ रहे आप नेता राघव चड्‌ढा ने चंडीगढ़ में प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की lR।

खबरें और भी हैं…



Source