दिल्ली पहुंची पंजाब कांग्रेस की लड़ाई: कांग्रेस कमेटी के सामने पेश होंगे कैप्टन अमरिंदर, मीटिंग के बाद सोनिया गांधी से भी मिल सकते हैं

0
34
Article Top Ad


  • Hindi News
  • National
  • Punjab Chief Minister । Amarinder Meets AICC 3 Member Cometee In Delhi

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जिस कमेटी के सामने कैप्टन पेश होने वाले हैं, उसकी अध्यक्षता मल्लिकार्जुन खड़गे करेंगे।- फाइल फोटो।

पंजाब कांग्रेस में पिछले कुछ दिनों से जारी गुटबाजी और खींचतान अब दिल्ली तक पहुंच गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मंगलवार को ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (AICC) के 3 सदस्यीय पैनल के सामने पेश होंगे। इसके बाद कैप्टन, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मुलाकात कर सकते हैं।

पैनल की अध्यक्षता लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे करेंगे। इसमें हरीश रावत और जेपी अग्रवाल भी शामिल रहेंगे। अमरिंदर सोमवार को ही दिल्ली पहुंच गए थे। इससे पहले पंजाब में गुटबाजी को लेकर कांग्रेस का एक पैनल अपनी रिपोर्ट 10 जून को सोनिया गांधी को दे चुका है।

पंजाब कांग्रेस में कलह के 3 कारण
1.
कैप्टन अमरिंदर और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच बयानबाजी जारी है।
2. दो विधायकों के बेटों को नौकरी के फैसले से भी कलह बढ़ी है।
3. सिद्धू की बयानबाजी के बाद विरोधी गुट के नेता एक्टिव हो गए हैं।

10 मंत्री और 12 विधायक भी कमेटी से मिलेंगे
अमरिंदर के अलावा कांग्रेस कमेटी से सुनील जाखड़, 10 मंत्री और 12 विधायक भी मुलाकात करेंगे। सूत्रों के अनुसार कैप्टन अमरिंदर खड़गे पैनल और राहुल गांधी को नवजोत सिद्धू की बयानबाजी की रिपोर्ट देकर कार्रवाई की मांग करेंगे। इसीबीच, पार्टी के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने नवजोत सिद्धू की बयानबाजी पर एतराज जताते हुए कहा कि पार्टी इसका नोटिस लेगी। इससे पहले सोमवार को पंजाब के विधायक राजकुमार वेरका, सांसद औजला और कुलजीत नागरा ने राहुल गांधी से मुलाकात की थी।

सिद्धू लगातार बोल रहे हैं कैप्टन के खिलाफ
नवजोत सिद्धू द्वारा एक बार फिर सीएम के खिलाफ मोर्चा खोलने के बाद मंगलवार को होने वाली बैठक का महत्व बढ़ गया है। सिद्धू ने कहा है कि वह चुनाव में इस्तेमाल होने वाले ‘शो पीस’ नहीं हैं। इससे पहले सिद्धू ने कहा था कि बार-बार कहने पर भी जब सरकार ने ठोस कदम नहीं उठाए तो उनको सिस्टम से हटना पड़ा। कैप्टन के खिलाफ सिद्धू लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। दोनों नेता पहले पैनल के समक्ष अपनी बात रखेंगे फिर सोनिया गांधी, राहुल गांधी से मिलेंगे। दोनों को आमने-सामने बैठाकर विवाद खत्म करने की कोशिश होगी।

राहुल गांधी से पंजाब के ये नेता भी मुलाकात करेंगे
राहुल से मंगलवार को मुलाकात करने वालों में कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, सुखबिंदर सरकारिया, सुखजिंदर सिंह रंधावा, चरणजीत चन्नी, भारत भूषण आशू, रजिया सुल्ताना, साधु सिंह धर्मसोत शामिल हैं। इनके अलावा परगट सिंह, कीकी ढिल्लों, संगत गिलजियां, नवतेज चीमा, कुलबीर सिंह जीरा की राहुल गांधी के साथ मीटिंग होगी।

जाखड़ से मुलाकात करेंगे राहुल गांधी
पीपीसीसी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि राहुल गांधी के साथ मीटिंग का मैसेज आया है। मीटिंग का उद्देश्य मौजूदा सियासी हालात पर चर्चा करना है। पिछले कुछ समय से वरिष्ठ नेताओं के बीच मतभेद बढ़ रहे हैं। सभी विवाद सुलझाना जरूरी है। इसीलिए राहुल गांधी ने मीटिंग का न्योता दिया है।

खबरें और भी हैं…



Source