नए मंत्रियों को मोदी की नसीहत: मीडिया में बेवजह बयानबाजी न करें, पुराने मंत्रियों से मिलकर उनके अनुभव का फायदा लें

0
46
Article Top Ad


  • Hindi News
  • National
  • Do Not Make Unnecessary Rhetoric In The Media, Meet Old Ministers And Take Advantage Of Their Experience

नई दिल्ली8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री ने सभी मंत्रियों को सुबह 9:30 बजे दफ्तर आने की भी सलाह दी।

सबसे बड़े मंत्रिमंडल विस्तार के अगले दिन प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मंत्रियों से बात की। उन्हें कुछ सबक दिए और क्या नहीं करना है ये भी बताया। मोदी ने कहा कि पुराने मंत्रियों को व्यवस्था के चलते हटाया गया है। इसका संबंध उनकी क्षमता से नहीं है। नए मंत्री पुराने मंत्रियों से मिलकर उनके अनुभव का फायदा लें।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने मंत्रियों को मीडिया में बेवजह बयानबाजी न करने की सलाह भी दी। उन्होंने मंत्रियों से कहा कि आपका काम चमकना चाहिए, न की आपका चेहरा। आगामी संसद सत्र को लेकर भी उन्होंने मंत्रियों से पूरी तैयारी के साथ संसद आने को कहा। प्रधानमंत्री ने सभी मंत्रियों को सुबह 9:30 बजे दफ्तर आने की भी सलाह दी।

पीएम मोदी ने बैठक में कोरोना का भी जिक्र किया। उन्होंने पर्यटन स्थलों पर लोगों की भीड़ और लापरवाही को लेकर भी चिंता जाहिर की। पीएम ने कहा कि कोरोना के केस कम होने के कारण लोग अब घरों के बाहर जाना चाहते हैं, लेकिन ये सबको याद रखना चाहिए कि महामारी का खतरा अभी टला नहीं है। वायरस लगातार म्यूटेट हो रहा है।

भीड़-भाड़ वाली जगहों को लेकर जताई चिंता
मंत्रिपरिषद की बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से हम सभी भीड़-भाड़ वाली जगहों और बिना मास्क या सोशल डिस्टेंसिंग के घूम रहे लोगों की तस्वीरें और वीडियो देख रहे हैं। यह सुखद नजारा नहीं है। इससे हमें डरना चाहिए। ऐसे समय में लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। एक छोटी सी लापरवाही कई लोगों के लिए मुसीबत बन सकती है। ऐसी ही लापरवाही से अन्य देशों में भी संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। इसलिए लोगों को कोरोना के नियमों का पालन करना चाहिए।

एक दिन पहले ही किया था सबसे बड़ा विस्तार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ही भारत के इतिहास में पहली बार सबसे बड़ा कैबिनेट विस्तार किया है। इसमें 43 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। डेढ़ घंटे चले शपथ ग्रहण में 36 नए मंत्रियों ने शपथ ली। नए मंत्रियों में सबसे ज्यादा 7 उत्तर प्रदेश और फिर 3 गुजरात से हैं। दोनों ही राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। मौजूदा मंत्रियों में से 7 को प्रमोट किया गया है।

मोदी ने इन्हें प्रमोट कियाअनुराग ठाकुर, जीके रेड्डी, मनसुख मंडाविया, किरन रिजिजू, आरके सिंह, हरदीप सिंह पुरी और पुरषोत्तम रूपाला को प्रमोशन मिला है। ये सभी 7 राज्य मंत्री थे, इन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है।

मंत्रियों ने कार्यभार संभालागुरुवार को पीयूष गोयल, भूपेंद्र यादव, अनुराग ठाकुर, अनुप्रिया सिंह पटेल, पशुपति कुमार पारस, निशीथ प्रमाणिक, अजय कुमार ने अपना कार्यभार संभाल लिया।

खबरें और भी हैं…



Source