भारत में कोरोनावायरस: पिछले 24 घंटे में मिले 1.86 लाख मरीज, 2.71 लाख ठीक हुए, 3659 मरीजों की मौत

0
76
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोनावायरस संक्रमण का असर धीरे-धीरे कम होता जा रहा है। एक्टिव केस की संख्या लगातार कम हो रही है। नए केस में भी कमी दर्ज की जा रही है। रिकवरी रेट में सुधार हुआ है। वहीं मरने वालों का आंकड़ा तीन हजार से नीचे नहीं आ रहा है। पिछले 24 घंटे में देश में 1 लाख 86 हजार 75 नए संक्रमित मिले हैं। वहीं, 2 लाख 71 हजार 2 लोग ठीक भी हुए हैं। इस दौरान 3 हजार 659 लोगों की मौत हुई है। 

कोरोनावायरस संक्रमण से देश में अब तक 2 करोड़ 75 लाख 54 हजार 245 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 2 करोड़ 48 लाख 97 हजार 146 मरीज ठीक भी हुए हैं। जबकि 3 लाख 18 हजार 924 लोगों की कोरोना ने जान ले ली है। फिलहाल देश में कोरोनावायरस से संक्रमित 23 लाख 27 हजार 158 मरीजों का इलाद देश की अलग-अलग अस्पतालों में किया जा रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर देश में वैक्सीनेशन का काम भी किया जा रहा है। 

नहीं थम रहीं मौतें
देश में कोरोना की दूसरी खत्म होने की कगार पर है, लेकिन मरने वालों की संख्या में कोई कमी नहीं हो रही है। मई में हर रोज औसतन 3,500 मौतें हुई हैं। ये पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा हैं। दुनिया में अब तक सिर्फ तीन देशों में कोरोना से 3 लाख से ज्यादा लोगों ने दम तोड़ा है। इनमें अमेरिका पहले और ब्राजील दूसरे नंबर पर है। वहीं, भारत तीसरे नंबर पर बना हुआ है। एक दिन में दुनिया में सबसे ज्यादा मौते भी भारत में हुई थी। यहां 18 मई को 4529 लोगों की जान गई थी।

देश में कोरोनावायरस वैक्सीनेशन
देश में 24 घंटे में 29 लाख 19 हजार 699 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। 27 लाख 25 हजार 111 लोगों को वैक्सीन का पहला डोज मिला है। जबकि 1 लाख 94 हजार 588 लोगों को दूसरा डोज दिया गया है। वहीं देश में अब तक 20 करोड़ 57 लाख 20 हजार 660 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। जिनमें 16 करोड़ 18 लाख 50 हजार 92 लोगों को वैक्सीन का पहला डोज दिया जा चुका है। वहीं 4 करोड़ 38 लाख 70 हजार 568 लोगों को दूसरा डोज मिला है।

एक जून से अनलॉक होगा मध्य प्रदेश
मध्य प्रदेश में 1 जून से जिलों को अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरु होगी। बुधवार को उज्जैन पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में ये संकेत दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें जून से सारी चीजें खोलनी हैं। कोरोना संक्रमण को रोकने के व्यवहार का पालन जनता को करना पड़ेगा। सभी संकल्प करें कि 31 मई तक कोई ढिलाई नहीं। आज से 11 दिन हैं, अगर हम जी जान से जुट गये तो कोरोना को पूरी तरह खत्म कर के छोड़ेंगे। सीएम ने कहा कि ओवर कॉन्फिडेंस में नहीं रहना है। कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। 

31 मई तक इंदौर-भोपाल में सख्ती
भोपाल संभाग में अगले 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा। इस बार सख्ती भी ज्यादा रहेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल, विदिशा, राजगढ़, सीहोर व रायसेन के कलेक्टराें को 10 दिन तक सख्ती बढ़ाने को कहा है। क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में तय हुआ कि भोपाल में 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया जाएगा। इंदौर में भी 1 जून से लॉकडाउन की पाबंदियों से रियायत मिलनी शुरू हो जाएंगी। कलेक्टर मनीष सिंह ने शुक्रवार को इस बात के संकेत दिए। इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन संभाग के जिलों को 1 जून से धीरे-धीरे खोलने का ऐलान किया था।

इन राज्यों में लॉकडाउन
देश के 19 राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन जैसी पाबंदियां हैं। इनमें हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, मिजोरम, गोवा, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी शामिल हैं। यहां पिछले लॉकडाउन जैसे ही कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं।

इन राज्यों में सख्त पाबंदी
देश के 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आंशिक लॉकडाउन है। यानी यहां पाबंदियां तो हैं, लेकिन छूट भी है। इनमें पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, मेघालय, नगालैंड, असम, मणिपुर, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश और गुजरात शामिल हैं।



Source