IIT मंडी में शोधकर्ताओं को मिली बड़ी सफलता, कोरोना वायरस में प्रोटीन की संरचना का पता लगाया

0
80
Article Top Ad



<p style="text-align: justify;"><strong>नई दिल्लीः</strong> भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मंडी के रिसर्चस ने कोरोना वायरस के महत्वपूर्ण प्रोटीन की संरचना का पता लगाया है. कोरोना की प्रोटीन पर हुआ यह नया शोध कोविड -19 के इलाज के लिए दवाओं के विकास में तेजी लाने में मदद कर सकता है. IIT मंडी के शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि उन्होंने SARS-CoV-2 के प्रमुख प्रोटीनों में से एक की संरचना को समझ लिया है, जो संक्रमण का कारण बनता है.</p>
<p style="text-align: justify;">’करंट रिसर्च इन वायरोलॉजिकल साइंस’ जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस में मौजूद गैर-संरचनात्मक प्रोटीन 1 (NSP1) के सी-टर्मिनल क्षेत्र के आकार और गुणों का वर्णन किया है. वैज्ञानिकों के अनुसार, वायरस में 16 नॉन-स्ट्रक्चरल प्रोटीन होते हैं, जिनमें से NSP1 मेजबान कोशिका के प्रोटीन को बाधित करने और इसके प्रतिरक्षा कार्यों को दबाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.</p>
<p style="text-align: justify;">रिसर्च के लेखकों में से एक जैव प्रौद्योगिकी के सहायक प्रोफेसर रजनीश गिरी का कहना है कि "NSP1 180 अमीनो एसिड से बना है. 1 से 127 अमीनो एसिड वाले क्षेत्र को पहले से ही एक स्वतंत्र संरचना बनाने के लिए दिखाया गया था, लेकिन अब तक प्रोटीन के सी-टर्मिनल क्षेत्र के बारे में कोई प्रयोगात्मक प्रमाण नहीं था जिसमें 131 से 180 अमीनो एसिड होते हैं. सर्कुलर डाइक्रोइज्म के समर्थन से स्पेक्ट्रोस्कोपी और आणविक गतिशीलता सिमुलेशन, हमारे समूह ने अलगाव में इस क्षेत्र की संरचना को समझ लिया है, "</p>
<p style="text-align: justify;">उन्होंने कहा कि किसी भी वायरस को बेअसर करने का एक तरीका उसके प्रोटीन पर हमला करना है, और दुनिया भर के वैज्ञानिक वायरस के खिलाफ दवाएं विकसित करने के लिए कोरोनावायरस में प्रोटीन की संरचना और कार्यों को समझने की कोशिश कर रहे हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>इसे भी पढ़ेंः</strong><br /><a href="abplive.com/news/india/twitter-s-statement-trying-to-impose-its-conditions-on-the-world-s-largest-democracy-will-have-to-obey-the-law-of-the-country-center-ann-1919470"><strong>Twitter का बयान दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र पर अपनी शर्तें थोपने की कोशिश, देश का कानून मानना ही होगा- केंद्र</strong></a></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/news/india/west-bengal-cm-mamata-banerjee-says-will-hold-review-meeting-on-cyclone-yaas-devastation-with-pm-modi-1919512"><strong>चक्रवात यास: ममता बनर्जी बोलीं- तबाही की समीक्षा के लिए पीएम मोदी के साथ बैठक करूंगी</strong></a></p>



Source