राष्ट्रपति ने मदद करने वाले देशों से यूएन राहत एवं कार्य एजेंसी का समर्थन करने का किया आग्रह

0
2
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, काहिरा । मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल-फतह अल-सीसी ने मदद देने वाले देशों से संयुक्त राष्ट्र राहत एवं कार्य एजेंसी (यूएनआरडब्ल्यूए) का समर्थन करने का आग्रह किया है, जो लाखों फिलिस्तीनी शरणार्थियों को सेवाएं प्रदान करती है। सीसी की टिप्पणी बुधवार को विश्व युवा मंच (डब्ल्यूवाईएफ) में एक पैनल चर्चा के दौरान सामने आई, जो वर्तमान में शर्म अल-शेख के एक रिसॉर्ट में आयोजित की जा रही है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मिस्र के राष्ट्रपति ने गाजा पट्टी के पुनर्निर्माण के लिए धन जुटाने की बात की, यह देखते हुए कि मिस्र पहले ही गाजा के पुनर्निर्माण के लिए 500 मिलियन डॉलर आवंटित कर चुका हैं। सीसी ने कहा हमारी भूमिका राज्यों को आगे बढ़ने और यूएनआरडब्ल्यूए को अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करने में मदद करेगी।

उन्होंने कहा कि मिस्र यूएनआरडब्ल्यूए को अपनी भूमिका निभाने के लिए अधिक से अधिक उसका समर्थन करने के लिए डोनर देशों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगा। सत्र के दौरान, काहिरा में यूएनआरडब्ल्यूए के मुख्य प्रतिनिधि, सहार अल-जॉबरी ने यूएनआरडब्ल्यूए का समर्थन करने में मिस्र की भूमिका की सराहना की और अंतरराष्ट्रीय भागीदारों से एजेंसी के लिए वित्तीय सहायता जारी रखने का आग्रह किया ताकि गाजा पट्टी को उसके संकट से उबरने में मदद मिल सके।

मिस्र ने मई 2021 में इस्लामिक प्रतिरोध आंदोलन (हमास) के नेतृत्व में इजरायल और फिलिस्तीनी सशस्त्र समूहों के बीच संघर्ष पर विराम लगाने को कहै था, जो गाजा पट्टी पर शासन करता है, 11 दिनों तक विवाद खून खराबे के बीच रहा, जिसके बाद यह लड़ाई रुकी। लड़ाई में 260 फिलिस्तीनियों और 13 इस्राइलियों के मारे जाने की खबर मिली थी।

 

(आईएएनएस)



Source