सागर हत्याकांड: पहलवान सुशील कुमार की बढ़ी मुश्किल, नौकरी से सस्पेंड करेगा उत्तर रेलवे

0
66
Article Top Ad


दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने पहलवान सुशील कुमार को वर्ल्ड रेसलिंग डे के मौके पर ही गिरफ्तार किया.

सुशील कुमार की प्रतिनियुक्ति की अवधि पिछले साल बढ़ाई गई थी और उन्होंने 2021 में भी सेवा विस्तार के लिए आवेदन दिया था लेकिन दिल्ली सरकार ने उनके अनुरोध को खारिज कर दिया. अब सागर पहलवान की हत्या के आरोपों में गिरफ्तार होने और FIR में नाम होने के कारण उन्हें सस्पेंड किया जाएगा.

नई दिल्ली. युवा पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के आरोप में गिरफ्तार रेसलर सुशील कुमार (Sushil Kumar) की और मुश्किलें बढ़ सकती हैं और उनकी रेलवे की नौकरी खतरे में पड़ गई है. उत्तर रेलवे के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा कि हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए पहलवान सुशील कुमार को सस्पेंड किया जाएगा. दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील को दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने वर्ल्ड रेसलिंग डे के मौके पर यानी 23 मई को गिरफ्तार किया था. सुशील कुमार उत्तर रेलवे में वरिष्ठ वाणिज्यिक प्रबंधक है. वह 2015 से प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली सरकार में हैं जिसने उन्हें स्कूली स्तर पर खेलों के विकास के लिए छत्रसाल स्टेडियम में विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) के तौर पर तैनात किया था. अधिकारियों ने बताया कि 2020 में सुशील कुमार की प्रतिनियुक्ति की अवधि बढ़ाई गई थी और उन्होंने 2021 में भी सेवा विस्तार के लिए आवेदन दिया था लेकिन दिल्ली सरकार ने उनके अनुरोध को खारिज कर दिया और उन्हें उनके मूल कैडर उत्तर रेलवे में भेज दिया गया. इसे भी देखें, सुशील कुमार गर्लफ्रेंड से मिलने आया था दिल्ली? अब सवालों में आई एक स्कूटी छत्रसाल स्टेडियम में 23 वर्षीय पहलवान सागर की मौत में कथित संलिप्तता के आरोप में सुशील और उनके साथी अजय को दिल्ली के मुंडका इलाके से एक दिन पहले ही दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वह एफआईआर में अपना नाम आने के बाद करीब तीन हफ्ते से फरार चल रहे थे.उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने कहा कि इस मामले के बारे में रेलवे बोर्ड को दिल्ली सरकार से रिपोर्ट रविवार को प्राप्त हुई. उनके (सुशील कुमार) खिलाफ एफआईआर दर्ज है और उन्हें सस्पेंड किया जाएगा.’ अधिकारियों ने बताया कि पहलवान को निलंबित करने संबंधी आधिकारिक आदेश कुछ दिनों में जारी हो जाएगा. इसे भी पढ़ें, ईंट-भट्ठे में काम करने को मजबूर फुटबॉलर संगीता की मदद करेगा खेल मंत्रालय वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि यदि कोई सरकारी अधिकारी गंभीर अपराधों में आरोपी पाया जाता है तो आमतौर पर उसे मामला चलने तक निलंबित कर दिया जाता है. युवा पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के आरोप में सुशील के अन्य साथियों की भी तलाश की जा रही है. मामला दिल्ली के मॉडल टाउन इलाके में एक फ्लैट पर कब्जे से जुड़ा है.









Source