सोशल मीडिया पर हो रहा है वीडियो वायरल

0
29
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, बीजिंग। इन दिनों चीन की सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में तीन चीनी अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में खूब मजे कर रहे हैं।वास्तव में, अंतरिक्ष में लंबी अवधि की उड़ान अंतरिक्ष यात्रियों को थका देने वाली होती है, और यह किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं होती है, इसलिए मनोरंजन करना भी बहुत जरूरी होता है।

इस वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि चीनी अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में संगीत सुन रहे हैं, फिल्म देख रहे हैं, व्यायाम कर रहे हैं, और यहां तक कि अपने बाल भी कटवा रहे हैं।दरअसल, नव वर्ष के आगमन पर शनचो-13 के कमांडर चेई चीकांग ने अपना एक नया हेयर स्टाइल रखा है, और उनके सह-अंतरिक्ष यात्री येई क्वांगफू ने उनके बाल काटने में मदद की है। वाकई, पृथ्वी से दूर अंतरिक्ष में बाल काटना कोई आसान बात नहीं है।

खैर, चीनी अंतरिक्ष यात्री काफी लंबे समय तक अंतरिक्ष में रहते हैं तो उनके लिए एक सुरक्षित और विश्वसनीय जल आपूर्ति भी अति-आवश्यक है। अंतरिक्ष यात्रियों के लिए जल तीन तरह से उपलब्ध कराया जाता है: अंतरिक्ष यान द्वारा परिवहन, साइट पर उत्पादन, और जल-पुनर्चक्रण।हाइड्रोजन और ऑक्सीजन को मिलाकार एक ईंधन सेल के माध्यम से अंतरिक्ष स्टेशन में भी जल उत्पन्न किया जाता है। यह प्रतिक्रिया भी ऊर्जा उत्पन्न करती है जो अंतरिक्ष स्टेशन को विद्युत शक्ति देने के लिए बिजली में परिवर्तित हो जाती है।

इस प्रतिक्रिया के ठंडा हो जाने से जल उत्पन्न होता है, और इसका तापमान 18 से 24 डिग्री सेल्सियस तक नीचे लाया जाता है और स्टोरेज टैंक में भेजे जाने से पहले सिल्वर आयन स्टरलाइजर द्वारा शुद्ध किया जाता है।फिलहाल, चीनी अंतरिक्ष यात्रियों के तीन महीने के प्रवास के दौरान बहुत सारा जल पिया जाता है। जल-पुनर्चक्रण और पुन: उपयोग जल की मांग को पूरा करने में मदद कर सकता है। इतना ही नहीं, चीनी अंतरिक्ष यात्रियों द्वारा उत्पादित मूत्र को भी एकत्र किया जाता है और शुद्ध जल निकालने के लिए इसका उपचार किया जाता है।

मानव शारीरिक गतिविधि के डेटा से पता चलता है कि प्रत्येक अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष स्टेशन में प्रति दिन लगभग दो किलोग्राम मूत्र और फ्लशिंग पानी उत्पन्न करता है। इसी अवधि के दौरान वे केबिन में लगभग 1.8 किलोग्राम जलवाष्प छोड़ते हैं। फिर, इसे शुद्ध पानी में उपचारित कर अंतरिक्ष में पीने के पानी का एक आवश्यक स्रोत प्रदान कर सकता है।

(अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, बीजिंग)

 

(आईएएनएस)



Source