Wimbledon 2021: ऐतिहासिक मुकाबले में अनुभव की जीत, सानिया-रोहन ने हमवतन जोड़ी को हराया

0
53
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, लंदन। भारत की अनुभवी टेनिस जोड़ी सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना ने विम्बलडन के मिक्स्ड डबल के पहले दौर में भारत की ही राजकुमार रामनाथन और अंकिता रैना की जोड़ी को हरा दिया। यह पहली बार था जब ओपन युग के किसी भी ग्रैंडस्लैम में दो भारतीय जोड़ी आमने-सामने थी। रामनाथन ने इस मैच से ग्रैंडस्लैम में डेब्यू किया, वह 21 बार एकल मुख्य ड्रॉ में क्वालिफाई करने की नाकाम कोशिश कर चुके हैं।

सानिया-बोपन्ना ने  राजकुमार-अंकिता की जोड़ी को 6-2,7-6 से मात दी। पहला सेट सानिया-बोपन्ना ने आसानी से आपने नाम किया लेकिन दूसरे दौर में उन्हें कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ा। बोपन्ना ने अपनी दमदार सर्विस और बेसलाइन पर ग्राउंड स्ट्रोक्स से सबको प्रभावित किया। 

सानिया और अमेरिका की बेथानी माटेक सैंड्स की जोड़ी पहले ही महिला डबल्स के दूसरे दौर में जगह बना चुकी है, जबकि रैना और उनकी अमेरिकी जोड़ीदार लौरेन डेविस पहले दौर में हार गईं थीं। रैना और डेविस की जोड़ी आसिया मोहम्मद और जेसिका पेगुला की अमेरिकी जोड़ी से सीधे सेटों में हार गई थी। अमेरिका की 14वीं वरीयता प्राप्त जोड़ी ने अंकिता और डेविस को 70 मिनट तक चले मुकाबले में 6-3, 6-2 से हराया। बोपन्ना और दिविज शरण भी पुरुष युगल के पहले दौर से आगे नहीं बढ़ पाए।

बता दें सानिया ने 4 साल के बाद विम्बलडन में वापसी की है, 2018 में डिलिवरी के बाद सानिया ने पिछली साल जनवरी में हॉबार्ट इंटरनेशनल डब्लूटीए खिताब जीतकर टेनिस कोर्ट पर धमाकेदार वापसी की थी। सानिया अभी तक अपने करियर में 6 ग्रैंडस्लैम अपने नाम कर चुकी हैं। 2015 में सानिया ने स्विट्जरलैंड की अपनी जोड़ीदार मार्टिना हिगिंस के साथ मिलकर विम्बलडन का खिताब जीता था।



Source