अब बिहार में ही ओमिक्रोन वैरिएंट की जांच हो पाएगी, सूबे में खुला पहला जीनोम सीक्वेंसिंग सेंटर

0
33
Article Top Ad


पटनाः बिहार में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. एक-एक दिन में अब तीन से अधिक नए केस आने लगे हैं. यहां तक कि बिहार में ओमिक्रोन वैरिएंट (Omicron Variant) भी प्रवेश कर चुका है. ऐसे में ओमिक्रोन वैरिएंट की जांच के लिए बिहार में पहला जीनोम सीक्वेंसिंग सेंटर शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने सोमवार को कहा कि राज्य का प्रथम जीनोम अनुक्रमण केंद्र यहां शुरू हो गया है, जिससे कोविड-19 मरीजों में ओमीक्रोन स्वरूप का समय पर पता लगाने में मदद मिलेगी. वे इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइसेंज (आईजीआईएमएस) में पत्रकारों से बात कर रहे थे.

इससे पहले नीतीश कुमार ने आईजीआईएमएस में नव स्थापित ‘मॉलेक्यूलर जेनेटिक लैबोरेटरी’ का मुआयना किया और 15 वर्ष एवं इससे ऊपर के किशोरों के लिए कोविड-19 टीकाकरण की शुरुआत की. मुख्यमंत्री ने कहा, “आज से, ओमिक्रोन के नमूनों की राज्य में ही जांच की जा सकती है. हम 15 वर्ष से अधिक आयु के सभी किशोरों का टीकाकरण करने के अलावा बुजुर्गों को बूस्टर खुराक उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं. वहीं, संक्रमण के मामलों में हाल में हुई तीव्र वृद्धि के कारण कई राज्यों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाए जाने के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में मौजूदा दिशानिर्देश पांच जनवरी तक जारी रहेंगे. ”

यह भी पढ़ें- IPS Shivdeep Lande: ‘सिंघम’ ने संभाली कोसी रेंज की कमान, SP लिपि सिंह ने किया स्वागत, पढ़ें- अधिकारी ने क्या कुछ कहा 

बैठक के बाद ही लिया जाएगा निर्णय

नीतीश कुमार ने कहा कि मंगलवार को स्थिति की समीक्षा की जाएगी. इसके लिए कोविड कार्य बल की एक बैठक होगी और उसके बाद कोई निर्णय लिया जाएगा. मद्यपान, बाल विवाह और दहेज के खिलाफ उनके राज्यव्यापी अभियान के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि मंगलवार को कार्यक्रम होगा. आगे के अन्य कार्यक्रमों पर समय आने पर निर्णय लिया जाएगा. नीतीश कुमार ने अपनी राज्यव्यापी यात्रा की हंसी उड़ाने को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को फटकार लगाते हुए कहा, ‘‘उन्हें इस तरह के सामाजिक जागरूकता अभियान का महत्व एक दिन समझ में आ जाएगा.”

यह भी पढ़ें- NMCH में फिर 72 डाॅक्टर और स्टूडेंट मिले कोरोना पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या हुई 168, अधिकांश घरों में क्वारंटाइन



Source