केरल में आज फिर आए कोरोना के 20 हजार से ज्यादा नए मामले, 117 और मरीजों की मौत

0
50
Article Top Ad


Image Source : PTI
केरल में कोरोना का कहर लगातार जारी है।

तिरुवनंतपुरम: केरल में कोरोना का कहर लगातार जारी है। बृहस्पतिवार को एक बार फिर से राज्य में 20 हजार से ज्यादा नए केस मिले हैं। राज्य में आज कोरोना वायरस संक्रमण के 22,040 नए मामले सामने आए, जबकि संक्रमण से 117 और मरीजों की मौत हो गई। केरल स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार नए मामलों के बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 34.93 लाख हो गई है जबकि मृतक संख्या 17,328 पर पहुंच गई है। विज्ञप्ति के अनुसार अब तक 32,97,834 लोग ठीक हो चुके हैं और अभी 1,77,924 मरीज उपचाराधीन हैं। 

केरल में कोरोना संक्रमण की दर 13.49 प्रतिशत दर्ज की गई। वहीं, केरल गए एक केंद्रीय दल ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को सौंपी अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि राज्य में कोविड-19 मरीजों के संपर्क में आने वालों का पता लगाने की प्रक्रिया धीमी हो हो गयी है, घरों में पृथक-वास संबंधी दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है और संक्रमण का पता लगाने वाली जांच में भी कमी देखने को मिली है। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि रिपोर्ट में बताया गया है कि लोग कोविड उपयुक्त आचरण को लेकर अधिक बेपरवाह होते जा रहे हैं और दल ने वैक्सीनेशन बढ़ाने की जरूरत पर बल दिया है। राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के निदेशक डा. सुजीत सिंह, पूर्व डीडीजी पी रवींद्रन, केंद्र के सलाहकार (पीएच) डॉँ एस के जैन , एनसीडीसी की कोझिकोड शाखा के अतिरिक्त निदेशक डॉ. के रेगु, एनसीडीसी के संयुक्त निदेशक डॉ. प्रणय वर्मा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के क्षेत्रीय कार्यालय की जनस्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. रुचि जैन, इस दल का हिस्सा थे। 

इस बीच केरल सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए लागू नियमों में भी ढील दे दी है। इसके चलते विवाद भी हो सकता है। एक तरफ राज्य सरकार ने सिर्फ एक दिन यानी रविवार को ही लॉकडाउन का ऐलान किया है तो वहीं 15 अगस्त और 22 अगस्त को पड़ने वाले रविवार को इन बंदिशों से पूरी तरह छूट दी गई है। सरकार का कहना है कि 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस और 22 तारीख को ओणम का त्योहार पड़ने की वजह से यह फैसला लिया गया है। राज्य में अब दुकानों को खोलने की टाइमिंग सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक रहेगी। 

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source