कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट के बाद एमपी में महाराष्ट्र से आने वाली बसों पर प्रतिबंध बढ़ा

0
81
Article Top Ad


भोपाल: देश में कोरोना वायरस का खतरा अभी थमा नहीं है. हर रोज कोरोना वायरस के नए मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच केरल, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस का नया डेल्टा प्लस वेरिएंट मिलने से चिंता बढ़ गई है. जिसके बाद मध्य प्रदेश सरकार ने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र की यात्री बसों की आवाजाही पर मौजूदा प्रतिबंध को 30 जून तक के लिए बढ़ा दिया है.

मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर यह प्रतिबंध लागू किया था. एक अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में प्रदेश के अतिरिक्त परिवहन आयुक्त अरविंद सक्सेना ने एक आदेश जारी किया है. इससे पहले 15 जून को जारी किया गया बसों की आवाजाही पर प्रतिबंध बढ़ाने का आदेश 22 जून तक प्रभावी था. वहीं मध्य प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की यात्री बसों के संचालन पर लगाया गया प्रतिबंध 15 जून से हटा दिया था.

स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 65 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना वायरस मामलों की कुल संख्या 7,89,415 हो गई है. पिछले 24 घंटों में प्रदेश में इस महामारी से 22 लोगों की मौत हुई. प्रदेश में अब तक इस बीमारी से कुल 8,806 लोगों की मौत हो चुकी है.

डेल्टा प्लस वेरिएंट

बता दें कि कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट ने चिंता बढ़ा दी है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि भारत में अब तक कोरोना वायरस के ‘डेल्टा प्लस वेरिएंट’ के 22 मामलों का पता चला है. इनमें से 16 मामले महाराष्ट्र के रत्नागिरि और जलगांव में पाए गए हैं. बाकी के छह केस केरल और मध्य प्रदेश में आए हैं.

यह भी पढ़ें: देश में अब तक कोरोना के ‘डेल्टा प्लस वेरिएंट’ के 22 मामलों का पता चला, केवल इन दो जिलों में हैं 16 केस



Source