‘चाय पर चर्चा’ से खत्म होगी पंजाब कांग्रेस की रार, कैप्टन के बुलावे पर सिद्धू भी साथ लेंगे चुस्की

0
41
Article Top Ad


पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और उनकी आपत्तियों के बावजूद प्रदेश में पार्टी के अध्यक्ष बनाए गए नवजोत सिंह सिद्धू शुक्रवार को साथ में चाय पर चर्चा करने जा रहे हैं। लंबे समय से चली आ रही कड़वाहट और टकराव को खत्म करने के लिए दोनों गुटों की ओर से की गई पहलों के बाद उम्मीद की जा रही है कि विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के नेता एकजुटता दिखा सकते हैं। सिद्धू ने पार्टी की बागडोर संभालने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में अमरिंदर सिंह को न्योता भेजा तो अब कैप्टन ने पार्टी के सभी नेताओं को सुबह चाय पर बुलाया है। बताया जा रहा है कि सिद्धू साथ चुस्की लेंगे। 

यह टी पार्टी पंजाब भवन में होगी, जिसमें पार्टी के सभी विधायकों, सांसदों और पदाधिकारियों को बुलाया गया है। चाय पर इस मुलाकात के बाद सभी नेता यहां से सिद्धू की ताजपोशी के लिए आयोजित कार्यक्रम में जाएंगे। सीएम अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीण ठुकराल ने ट्वीट किया, ”पंजाब के मुख्यमंत्री ने सभी विधायकों, सांसदों और पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों को शुक्रवार सुबह 10 बजे चाय पर बुलाया है। इसके बाद वे पीपीसीसी की नई टीम के गठन के लिए कांग्रेस भवन जाएंगे।”

पिछले कुछ समय से सिद्धू और अमरिंदर का टकराव चल रहा है। अमृतसर (पूर्व) के विधायक सिद्धू ने पवित्र ग्रंथ की बेअदबी के मामले के लिए मुख्यमंत्री पर निशाना साधा था। मुख्यमंत्री ने सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने का भी विरोध किया था और कहा था कि जब तक सिद्धू उनके खिलाफ अपमानजनक ट्वीट के लिए माफी नहीं मांगेंगे, वह उनसे नहीं मिलेंगे। अमरिंदर सिंह से कांग्रेस नेताओं ने मुलाकात की।

सिद्धू शुक्रवार को यहां पंजाब कांग्रेस भवन में औपचारिक रूप से चार कार्यकारी अध्यक्षों के साथ पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीपीसीसी) के अध्यक्ष का कार्यभार संभालेंगे। नए कार्यकारी अध्यक्ष संगत सिंह गिलजियान, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा हैं। सिद्धू मौजूदा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ की जगह लेंगे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) में पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत के भी इस कार्यक्रम में शामिल होने की उम्मीद है।

संबंधित खबरें





Source