पश्चिम एशिया के पहले दौरे पर गए ब्लिंकेन ने इस्राइल-फलस्तीन के नेताओं से की मुलाकात

0
49
Article Top Ad


एजेंसी, येरूशलम।
Published by: Amit Mandal
Updated Thu, 27 May 2021 12:50 AM IST

ख़बर सुनें

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने फलस्तीनियों के लिए एक प्रमुख राजनयिक संपर्क कार्यालय को दोबारा खोलने की योजना की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने ट्रंप प्रशासन की प्रमुख नीतियों को पलटते हुए करीब चार करोड़ डॉलर की नई सहायता राशि का भी एलान किया है। अमेरिकी विदेश मंत्री ने इस्राइल और फलस्तीन दोनों के ही नेताओं से मुलाकात भी की।

ब्लिंकेन ने वेस्ट बैंक में संकटग्रस्त फलस्तीन सरकार को समर्थन देने की अमेरिकी कोशिशों के तहत यह घोषणा की। क्षेत्र के पहले आधिकारिक दौरे पर पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री ने इस्राइल-फलस्तीन के बीच पिछले सप्ताह हुए संघर्ष-विराम को मजबूती प्रदान करने के मकसद से दोनों के नेताओं से मुलाकात की। बता दें कि गाजा पट्टी में इस्राइल और हमास आतंकियों के बीच 11 दिनों तक चले संघर्ष के बाद युद्धविराम हुआ था। ब्लिंकन ने इन प्रयासों के लिए अंतरराष्ट्रीय समर्थन जुटाने का संकल्प जताया और यह भी सुनिश्चित करने का वादा किया कि सहायता राशि का एक भी हिस्सा हमास तक नहीं पहुंचेगा। ब्लिंकेन ने बार-बार दशकों पुराने संघर्ष के लंबित मुद्दों की ओर इशारा किया और दोनों पक्षों के प्रति सहानुभूति जताई। हालांकि उन्होंने दीर्घकालिक शांति के लिए अमेरिका की ओर से दोबारा दबाव बनाने में रुचि नहीं दिखाई।  

दोनों देशों में समान उपायों का साझा संकल्प जरूरी
अमेरिकी विदेश मंत्री ने वेस्ट बैंक में फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास के साथ बातचीत के बाद कहा, मैं यहां फलस्तीनी शासन और फलस्तीनी जनता के साथ रिश्तों के पुनर्निर्माण की अमेरिकी प्रतिबद्धता को रेखांकित करने आया हूं। ऐसे रिश्ते जो आपसी सम्मान के आधार पर बने हों और उनमें फलस्तीनियों तथा इस्राइलियों के लिए सुरक्षा, स्वतंत्रता व सम्मान के समान उपायों का साझा संकल्प जरूरी है।

ट्रंप से ज्यादा निष्पक्ष होंगे बाइडन
एंटनी ब्लिंकेन ने यह भी साफ किया कि मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन क्षेत्र के लिए पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तुलना में अधिक निष्पक्ष तरीके से प्रयास करेंगे। ट्रंप ने फलस्तीनियों के साथ एक तरह से हर क्षेत्र में असहमति दिखाते हुए इस्राइल का भरपूर समर्थन जताया था। जबकि बाइडन प्रशासन इस्राइल-फलस्तीन में संतुलन बिठाकर हालात सुधारने पर जोर दे रहा है।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने फलस्तीनियों के लिए एक प्रमुख राजनयिक संपर्क कार्यालय को दोबारा खोलने की योजना की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने ट्रंप प्रशासन की प्रमुख नीतियों को पलटते हुए करीब चार करोड़ डॉलर की नई सहायता राशि का भी एलान किया है। अमेरिकी विदेश मंत्री ने इस्राइल और फलस्तीन दोनों के ही नेताओं से मुलाकात भी की।

ब्लिंकेन ने वेस्ट बैंक में संकटग्रस्त फलस्तीन सरकार को समर्थन देने की अमेरिकी कोशिशों के तहत यह घोषणा की। क्षेत्र के पहले आधिकारिक दौरे पर पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री ने इस्राइल-फलस्तीन के बीच पिछले सप्ताह हुए संघर्ष-विराम को मजबूती प्रदान करने के मकसद से दोनों के नेताओं से मुलाकात की। बता दें कि गाजा पट्टी में इस्राइल और हमास आतंकियों के बीच 11 दिनों तक चले संघर्ष के बाद युद्धविराम हुआ था। ब्लिंकन ने इन प्रयासों के लिए अंतरराष्ट्रीय समर्थन जुटाने का संकल्प जताया और यह भी सुनिश्चित करने का वादा किया कि सहायता राशि का एक भी हिस्सा हमास तक नहीं पहुंचेगा। ब्लिंकेन ने बार-बार दशकों पुराने संघर्ष के लंबित मुद्दों की ओर इशारा किया और दोनों पक्षों के प्रति सहानुभूति जताई। हालांकि उन्होंने दीर्घकालिक शांति के लिए अमेरिका की ओर से दोबारा दबाव बनाने में रुचि नहीं दिखाई।  

दोनों देशों में समान उपायों का साझा संकल्प जरूरी

अमेरिकी विदेश मंत्री ने वेस्ट बैंक में फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास के साथ बातचीत के बाद कहा, मैं यहां फलस्तीनी शासन और फलस्तीनी जनता के साथ रिश्तों के पुनर्निर्माण की अमेरिकी प्रतिबद्धता को रेखांकित करने आया हूं। ऐसे रिश्ते जो आपसी सम्मान के आधार पर बने हों और उनमें फलस्तीनियों तथा इस्राइलियों के लिए सुरक्षा, स्वतंत्रता व सम्मान के समान उपायों का साझा संकल्प जरूरी है।

ट्रंप से ज्यादा निष्पक्ष होंगे बाइडन

एंटनी ब्लिंकेन ने यह भी साफ किया कि मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन क्षेत्र के लिए पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तुलना में अधिक निष्पक्ष तरीके से प्रयास करेंगे। ट्रंप ने फलस्तीनियों के साथ एक तरह से हर क्षेत्र में असहमति दिखाते हुए इस्राइल का भरपूर समर्थन जताया था। जबकि बाइडन प्रशासन इस्राइल-फलस्तीन में संतुलन बिठाकर हालात सुधारने पर जोर दे रहा है।



Source