हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू: 31 मई से पांच घंटे खुलेंगी दुकानें, सरकारी कार्यालयों में आएंगे कर्मचारी, बस सेवाएं बंद रहेंगी

0
47
Article Top Ad


अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
Published by: अरविन्द ठाकुर
Updated Fri, 28 May 2021 06:20 PM IST

सार

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के बीच सभी शैक्षणिक संस्थान पांच जून तक बंद रहेंगे। प्रदेश सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के बीच 31 मई से सभी दुकानें सप्ताह में पांच दिन रोज पांच घंटे के लिए खुली रहेंगी। दुकानें सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी। राज्य सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। सरकारी कार्यालय सप्ताह में पांच दिन 30 फीसदी कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। सभी शैक्षणिक संस्थान पांच जून तक बंद रहेंगे। वहीं अभी सरकारी परिवहन बस सेवाएं बंद रहेंगी। 

मुख्य सचिव अनिल खाची ने कहा है कि बसें चलाने पर निर्णय पांच जून को ही होना है। इसी तरह से शैक्षणिक संस्थान खोलने समेत कई अन्य मामलों पर उसी दिन फैसला होगा। गौरतलब है कि हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू 17 मई की सुबह तक लगाया गया था।

इसके बाद 15 मई को फिर कैबिनेट बैठक बुलाई गई। इसमें 17 मई से 26 मई को सुबह छह बजे तक कोरोना कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया। 26 मई से इसे आगे 31 मई तक पांच दिन और बढ़ाया गया था। प्रदेश में अभी तीन घंटे के लिए दुकानें खुल रही हैं।

विस्तार

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के बीच 31 मई से सभी दुकानें सप्ताह में पांच दिन रोज पांच घंटे के लिए खुली रहेंगी। दुकानें सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी। राज्य सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। सरकारी कार्यालय सप्ताह में पांच दिन 30 फीसदी कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। सभी शैक्षणिक संस्थान पांच जून तक बंद रहेंगे। वहीं अभी सरकारी परिवहन बस सेवाएं बंद रहेंगी। 

मुख्य सचिव अनिल खाची ने कहा है कि बसें चलाने पर निर्णय पांच जून को ही होना है। इसी तरह से शैक्षणिक संस्थान खोलने समेत कई अन्य मामलों पर उसी दिन फैसला होगा। गौरतलब है कि हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू 17 मई की सुबह तक लगाया गया था।

इसके बाद 15 मई को फिर कैबिनेट बैठक बुलाई गई। इसमें 17 मई से 26 मई को सुबह छह बजे तक कोरोना कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया। 26 मई से इसे आगे 31 मई तक पांच दिन और बढ़ाया गया था। प्रदेश में अभी तीन घंटे के लिए दुकानें खुल रही हैं।



Source