अफगानिस्तान के क्षेत्रों पर तालिबान के तेजी से नियंत्रण के बीच दुशान्बे पहुंचे एय जयशंकर, SCO मीट से पहले अफगान समकक्ष से मुलाकात की

0
31
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, दुशान्बे। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को अपने अफगान समकक्ष मोहम्मद हनीफ अतमार से मुलाकात की और युद्धग्रस्त देश की स्थिति पर चर्चा की। जयशंकर मंगलवार को दो दिवसीय यात्रा पर ताजिकिस्तान की राजधानी दुशान्बे पहुंचे हैं। यहां पर वो शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की परिषद और अफगानिस्तान पर एससीओ संपर्क समूह की बैठकों में भाग लेंगे।

जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘अफगानिस्तान के फाइनेंस मिनिस्टर मोहम्मद हनीफ अतमार के साथ मुलाकात करके दुशान्बे यात्रा की शुरुआत की। एससीओ कॉन्टेक्ट ग्रुप ऑन अफगानिस्तान की कल की मीटिंग की प्रतीक्षा कर रहा हूं।’ एससीओ कॉन्टेक्ट ग्रुप ऑन अफगानिस्तान की मीटिंग महत्वपूर्ण है क्योंकि ये मीटिंग ऐसे समय में हो रही है जब तालिबान का अफगानिस्तान के क्षेत्रों पर तेजी से नियंत्रण बढ़ रहा है जो वैश्विक चिंताओं का कारण बना हुआ है।

भारत ने अफगान बलों और तालिबान आतंकवादियों के बीच भीषण लड़ाई के मद्देनजर एक सैन्य विमान में कंधार में अपने वाणिज्य दूतावास से लगभग 50 राजनयिकों और सुरक्षा कर्मियों को निकाल लिया है। अफगानिस्तान में पिछले कुछ हफ्तों में कई आतंकी हमले हुए हैं, क्योंकि अमेरिका अगस्त के अंत तक अफगानिस्तान से अपनी सेना की वापसी को पूरा करना चाहता है। युद्ध से तबाह देश में करीब दो दशकों से अमेरिका की सेना तैनात है।

अफगानिस्तान की शांति और स्थिरता में भारत एक प्रमुख स्टेकहोल्डर रहा है। यह पहले ही देश में सहायता और पुनर्निर्माण गतिविधियों में लगभग 3 बिलियन अमरीकी डालर का निवेश कर चुका है। 





Source