अमेरिका में डेल्टा वेरिएंट के कारण तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमण के मामले

0
31
Article Top Ad


वाशिंगटन: अमेरिका में कोविड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. नए डेटा के मुताबिक यहां अत्यधिक संक्रामक डेल्टा वेरिएंट हावी है और टीकाकरण स्थिर है. यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के अनुसार, नए मामलों के सात दिन का औसत 6 जुलाई तक 13,859 केस था, जो दो सप्ताह पहले की तुलना में 21 प्रतिशत ज्यादा है. 4 जुलाई के वीकेंड के बाद हाल के दिनों से जुड़े मामले और बढ़ सकते हैं.

सीडीसी के अनुसार मामलो में बढ़ोतरी डेल्टा वेरिएंट के कारण हो रही है, जो पिछले स्ट्रेन की तुलना में अधिक ट्रांसमिसिबल है.  दो सप्ताह में लगभग 52 प्रतिशत मामलों का इसी वेरिएंट के आए हैं. टीकों की सबसे अधिक उपलब्धता होने के बावजूद अप्रैल के बाद से अमेरिका के टीकाकरण अभियान में तेजी से गिरावट आई है.

कम टीकाकररण दरे वाले क्षेत्रों में ज्यादा मामले आ रहे
राष्ट्रपति जो बाइडेन स्वतंत्रता दिवस तक 70 प्रतिशत वयस्कों को कम से कम वैक्सीन की एक डोज देने   के अपने लक्ष्य से चूक गए हैं और फिलहाल यह आंकड़ा 67 प्रतिशत है. अमेरिका के मध्य पश्चिम और दक्षिण में कम टीकाकरण दर वाले क्षेत्रों में हाई वैक्सीनेशन रेट वाले क्षेत्रों की तुलना में ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. यह ट्रेंड हाल के हफ्तों में तेजी से क्लियर हुआ है. स्थानीय मीडिया के अनुसार स्प्रिंगफील्ड, मिसौरी के एक अस्पताल में वीकेंड में अस्पताल में भर्ती कोविड मरिजों के इलाज के लिए वेंटिलेटर की कमी हो गई.

वायरस के खिलाफ प्रभावी हैं वैक्सीन
जॉन्स हॉपकिन्स सेंटर फॉर हेल्थ सिक्योरिटी में संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. अमेश अदलजा ने कहा, “जो ट्रजेक्टरी हमें दिखने की संभावना है, वह अमेरिका में महामारी के दो अलग-अलग रूप हैं. एक रूप में उन जगहों पर अधिक समस्या है जहां टीकाकरण बहुत कम हुआ है. वहीं देश के दूसरे हिस्सों में, महामारी काफी हद तक एक सामान्य श्वसन वायरस के रूप में मैनेज होने वाली है.”  
   
आंकड़ों के अनुसार, फाइजर, जॉनसन एंड जॉनसन और एस्ट्राजेनेका के टीकों ने गंभीर कोविड के खिलाफ उच्च प्रभावकारिता बरकरार रखी है और विशेषज्ञों के अनुसार मॉडर्ना वैक्सीन के बारे में भी ऐसा ही है.

  

यह भी पढ़ें-
एल्गार परिषद मामले के आरोपी स्टेन स्वामी की मौत पर अमेरिकी निकाय ने की निंदा, कहा- जानबूझकर हुई उपेक्षा

पाकिस्तान में देवबंदी संप्रदाय के सबसे बड़े मुफ्ती तक़ी उस्मानी पर चाकू से हमला, बीते दो साल में दूसरी बार बने निशाना



Source