अमेरिकी खुफिया एजेंसी करेंगी कोविड-19 की उत्पत्ति की जांच, राष्ट्रपति जो बाइडन ने दिए आदेश

0
61
Article Top Ad


वाशिंगटनः अमेरिका कोरोना वायरस संक्रमण से संक्रमित होने वाला दुनियाभर में सबसे बड़ा देश है. यहां अभी तक 6 लाख से ज्यादा लोगों ने कोरोना संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा दी है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से कोविड-19 महामारी की उत्पत्ति की जांच के अपने प्रयासों को “दोगुना” करने के लिए कहा है.

उन्होंने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के लिए अपर्याप्त सबूत हैं कि “क्या यह किसी संक्रमित जानवर के साथ मानव संपर्क से उभरा है या प्रयोगशाला में हुई दुर्घटना से उभरा है.” बाइडन ने एक बयान में कहा, “अधिकांश खुफिया समुदाय को यह नहीं लगता है कि इसका आकलन करने के लिए पर्याप्त जानकारी है कि किसकी संभावना अधिक है.” 

उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं को जांच में सहायता करने का निर्देश दिया और चीन से महामारी की उत्पत्ति को लेकर अंतरराष्ट्रीय जांच में सहयोग करने का आह्वान किया.

उन्होंने कहा, “अमेरिका दुनिया भर में समान विचारधारा वाले भागीदारों के साथ काम करता रहेगा ताकि चीन पर पूर्ण, पारदर्शी, साक्ष्य-आधारित अंतरराष्ट्रीय जांच में भाग लेने और सभी प्रासंगिक आंकड़ों और साक्ष्यों तक पहुंच प्रदान करने के लिए दबाव डाला जा सके.” उन्होंने इस संभावना को खारिज कर दिया कि अंतरराष्ट्रीय जांच में पूरी तरह से सहयोग करने में चीनी सरकार के इनकार को देखते हुए एक निश्चित निष्कर्ष कभी नहीं निकाला जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंः
नेपाल में राजनीतिक उठापटक उफान पर, भारत सरकार ने की महत्वपूर्ण टिप्पणी

America: एरिक गार्सेटी हो सकते हैं भारत में अगले राजदूत, राष्ट्रपति बाइडन के विश्वसनीय सहयोगी रहे हैं



Source