जानिए क्या है संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस का उद्देश्य

0
62
Article Top Ad


संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस हर साल 23 जून को मनाया जाता है. संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 2003 के रिजोल्युशन A/RES/57/277 में नामित किया गया था. इसका उद्देश्य समुदाय के लिए सार्वजनिक सेवा के मूल्य और गुण को पहचानना और विकास प्रक्रिया में लोक सेवा के योगदान के बारे में बताना है. इसके द्वारा लोक सेवकों के काम को मान्यता मिलती है. इसके अलावा यह युवाओं को सार्वजनिक क्षेत्र में करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है.

संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस का इतिहास

संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद की ओर से लोक सेवा दिवस पर लोक सेवा की भूमिका, प्रतिष्ठा और दृश्यता बढ़ाने के लिए किए गए योगदान के लिए संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं. इस दिन अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन ने श्रम संबंधों पर कन्वेंशन (लोक सेवा), 1978 (नंबर 151) को अपनाया था. यह कन्वेंशन दुनिया भर में सभी सिविल सेवकों की कामकाजी परिस्थितियों को निर्धारित करने के लिए एक रूपरेखा तैयार करता है.

संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस के मौके पर कार्यक्रम का आयोजन

संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस 2021 के उपलक्ष्य में संयुक्त अरब अमीरात की सरकार के सहयोग एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इसके लिए संयुक्त अरब अमीरात की सरकार के सहयोग से संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक और सामाजिक मामलों के विभाग के सार्वजनिक संस्थानों और डिजिटल सरकार का विभाग 1.5 घंटे के वर्चुअल कार्यक्रम की मेजबानी करेगा. 

23 जून को संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस 2021 के मौके पर “भविष्य की लोक सेवा का नवाचार: SDGs तक पहुंचने के लिए एक नए युग के लिए नए सरकारी मॉडल” विषय के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. यह आयोजन लोक सेवकों के काम का सम्मान करने के लिए प्रमुख हितधारकों, लोक सेवकों और संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों को एक साथ लाएगा.

आयोजन का उद्देश्य

यह आयोजन सार्वजनिक सेवाओं के वितरण में नवाचार और प्रौद्योगिकी द्वारा निभाई जाने वाली तेजी से केंद्रित भूमिका पर प्रकाश डालेगा. कार्यक्रम के दौरान भविष्य की सार्वजनिक सेवा को एक नए युग के लिए बेहतर तरीके से कैसे तैयार किया जाए इस पर भी चर्चा की जाएगी, जिससे कि 2030 के सतत विकास लक्ष्यों तक पहुंचा जा सके.

इसे भी पढ़ेंः
दिल्ली दौरे पर नीतीश कुमार बोले- आंखों का इलाज कराने आया हूं, केंद्र में कैबिनेट विस्तार को लेकर कही ये बात

चिराग पासवान का अपने समर्थकों के नाम खुला पत्र- लोक जनशक्ति पार्टी हमारी थी और हमारी रहेगी



Source