Prisoner who exposed Kovid in Wuhan nominated for Chinese Journalist Award | वुहान में कोविड का पर्दाफाश करने वाले कैदी चीनी पत्रकार पुरस्कार के लिए नामित – Bhaskar Hindi

0
4
Article Top Ad



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। हिरासत में लिए गए चीनी पत्रकार झांग झान को रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (आरएसएफ) प्रेस स्वतंत्रता पुरस्कार के लिए नामित किया गया है। इस महिला पत्रकार ने कोविड-19 महामारी के शुरुआती हफ्तों में वुहान से साहसपूर्ण रिपोर्टिग की थी। उसकी रिहाई के लिए अपील की गई है।

द गार्जियन की रिपोर्ट में कहा गया है कि पूर्व वकील से नागरिक पत्रकार बनीं झांग को पिछले साल दिसंबर में झगड़ा मोल लेने और परेशानी पैदा करने का दोषी ठहराया गया था। चीन में महामारी के दौरान पत्रकारों, वकीलों और असंतुष्टों पर अक्सर ये ही आरोप लगाए जाते रहे हैं।

झांग को चार साल जेल की सजा सुनाई गई थी। वह मई 2020 में अपनी प्रारंभिक गिरफ्तारी के बाद से ही नजरबंद थीं और भूख हड़ताल पर थीं। पिछले हफ्ते, उसके परिवार ने कहा कि 38 वर्षीय झांग मौत के करीब पहुंच गई हैं। उसके बाद उनकी तत्काल रिहाई के लिए वैश्विक अपीलों की संख्या बढ़ गई।

सोमवार को अपने नामांकन में, आरएसएफ ने कहा कि झांग ने वुहान की सड़कों और अस्पतालों से अपनी वीडियो रिपोर्ट को लाइवस्ट्रीम करने और कोविड-19 रोगियों के परिवारों के उत्पीड़न को दिखाने के लिए अधिकारियों से लगातार धमकियों का सामना किया था।

रिपोर्ट के अनुसार, उनकी रिपोर्टिग उस समय वुहान में स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में स्वतंत्र जानकारी के मुख्य स्रोतों में से एक थी, जिसे सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा किया गया।

झांग वुहान में गिरफ्तार किए गए कई पत्रकारों में से एक हैं, लेकिन उन्हें सबसे पहले दोषी ठहराया गया था। उन पर वीडियो और अन्य मीडिया जैसे वीचैट, ट्विटर और यूट्यूब के माध्यम से झूठी जानकारी भेजने का आरोप लगाया गया था। अभियोग पत्र के अनुसार, विदेशी प्रेस के साथ साक्षात्कार के दौरान झांग ने दुर्भावनापूर्ण ढंग से अनुमान लगाया।

पिछले हफ्ते, शंघाई में रहने वाले झांग के भाई ने ट्विटर पर कहा कि वह गंभीर रूप से कमजोर दिख रही थीं और ज्यादा समय तक नहीं जी सकतीं। उन्होंने कहा कि झांग लगभग 5 फीट 10 इंच (177 सेमी) लंबी हैं और उनका वजन केवल 40 किलोग्राम है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि आरएसएफ ईस्ट एशिया ब्यूरो के प्रमुख सेड्रिक अल्वियानी ने कहा कि झांग चीन में बढ़ते सरकारी दमन और नियामक प्रतिबंधों के बीच साहसिक पत्रकारिता का प्रतीक बन गईं।

झांग झान चीनी लोगों की आशा का प्रतिनिधित्व करती हैं। वह पत्रकारिता कर रहे लोगों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। चीनी लोग पृथ्वी पर हर व्यक्ति और उनके आसपास क्या हो रहा है, इस बारे में जानकारी चाहते हैं।

 

(आईएएनएस)



Source